क्या आप मुंहासों से परेशान रहते हैं| अधिकांश लोग मुंहासों को मेकअप से छिपाने का प्रयास करते हैं और कई लोग मुंहासे खत्म करने के लिए क्रीम या सीरम का इस्तेमाल करते हैं| यह प्रक्रिया लगातार चलती रहती है|

मुंहासों के कारण और लक्षण

मुंहासे होना मुख्य रूप से त्वचा का रोम छिद्रों के बड़े आकार का परिणाम होता है| आपकी त्वचा पर स्थित रोम छिद्रों में मृत कोशिकाएं और त्वचा से निकलने वाला तेल जमा हो जाता है, जिससे ये रोम छिद्र बंद हो जाते हैं| अशुद्धियों से भरे इन रोम छिद्रों में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं और त्वचा में सूजन आ जाती है|

Advertisements

हार्मोन में होने वाला बदलाव भी मुँहासे होने का एक कारण होता है| यही कारण है कि किशोरों में मुँहासे होने की समस्या अधिक होती है| कई महिलाओं में मासिक धर्म बंद होने के समय हार्मोन के परिवर्तन के कारण मुंहासे होने लगते हैं| तनाव लेने और कुछ दवाओं के परिमाणस्वरुप भी मुँहासे होने लगते हैं|

मुँहासे होने के कारण

मुंहासों की रोकथाम

  • आप अपनी त्वचा को साफ और नमीयुक्त (मॉइस्चराइज़्ड) रखकर मुंहासों से बच सकते हैं|
  • संभव हो तो चेहरे को बार-बार न छुएं|
  • कम से कम मेकअप का इस्तेमाल करें| रात को सोने से पहले मेकअप को साफ करना न भूलें|
  • बालों के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले उत्पादों के अधिक इस्तेमाल से बचें| इस्तेमाल करते समय ये उत्पाद आपके चेहरे पर आ जाते हैं, जिससे रोम छिद्र बंद हो जाते हैं|
  • उचित आहार लें| अधिक तैलीय भोजन का सेवन न करें तथा ताजे फलों और सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें|

कील-मुंहासों को जड़ से खत्म करने के लिए आपको प्राकृतिक उपचारों का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि प्राकृतिक उपचारों के कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं| नारियल तेल एक प्राकृतिक पदार्थ होता है|

नारियल तेल कई अच्छाइयों से भरा होता है| सूखे हुए नारियल से नारियल का तेल निकाला जाता है| यह स्वास्थ्य और सुन्दरता के कई उपचारों के लिए फायदेमंद होता है|

Advertisements

नारियल तेल से मुँहासे हटायें

मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए नारियल तेल के उपयोग

नारियल तेल में पाया जाने वाला लॉरिक एसिड सूक्ष्म जीवाणुओं को मारता है| इसका अर्थ है कि यह त्वचा से बैक्टीरिया और फंगस को खत्म करता है| इससे रोम छिद्रों में जमा इन्फेक्शन (संक्रमण) के इलाज में सहायता मिलती है| नारियल तेल सूजन को भी खत्म करता है, जो मुंहासों के कारण होने वाले दर्द और सूजन को खत्म करने में सहायक है|

नोट: अगर आपकी त्वचा अधिक तैलीय है, तो इन उपायों को करने से पहले मुहासों रहित त्वचा पर लगा के देख ले|

यहाँ बताये गये तरीकों से कील-मुंहासों को खत्म करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल करें|

विधि 1: शुद्ध नारियल तेल के इस्तेमाल से

शुद्ध नारियल तेल स्वयं में इतना प्रभावी होता है कि एक सप्ताह तक इसके नियमित इस्तेमाल से बेहतर परिणाम देखने को मिल जायेंगे| शुद्ध नारियल तेल का pH स्तर त्वचा के pH स्तर के लगभग आस-पास होता है, इसलिए नारियल तेल आपकी त्वचा के लिए काफी सौम्य होता है| यह आपकी त्वचा के प्राकृतिक तेल को भी संतुलन में रखता है|

नारियल तेल काफी हल्का होता है, इसलिए यह आपके रोम छिद्रों को बंद नहीं करता है और त्वचा इसे आसानी से ग्रहण कर लेती है| यह त्वचा को वातावरण की अशुद्धियों से बचाता है|

शुद्ध नारियल तेल को मुंहासों पर लगाइए

मुंहासों पर शुद्ध नारियल तेल लगाइए
मुंहासों को खत्म करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल कीजिये
  • रुई की सहायता से शुद्ध नारियल तेल को मुंहासों पर लगाइए|
  • इसे पूरी रात ऐसे ही छोड़ दीजिये और अगली सुबह गुनगुने पानी से चेहरा धो लीजिये|
  • अगर आप उँगलियों से नारियल तेल लगाना चाहते हैं, तो हाथों को अच्छी तरह से धोने के बाद ही नारियल तेल का इस्तेमाल करें|

नियमित रूप से कील-मुंहासों को खत्म करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल करें|

Advertisements

विधि 2: हल्दी के साथ नारियल तेल का इस्तेमाल

नारियल तेल में हल्दी मिलाने से यह एक प्रभावी घरेलू उपचार बन जाता है| हल्दी में पाया जाने वाला कुर्कुमिन त्वचा को औषधीय गुण प्रदान करता है|

कुर्कुमिन त्वचा की सूजन को खत्म करता है और बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है, जो मुंहासों को खत्म करने में सहायक है| हल्दी के इस्तेमाल से त्वचा पर पीले रंग के दाग लग सकते हैं, लेकिन त्वचा को दो-तीन बार धोने से ये दाग आसानी से चले जाते हैं| हल्दी का उपयोग करते समय सावधानी बरतिए कि यह आपके कपड़ों में न गिर जाये|

आवश्यक सामग्री:

हल्दी से मुँहासे खत्म करने के लिए आवश्यक सामग्री

Advertisements
  • शुद्ध नारियल तेल (सूजन कम करता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)
  • हल्दी पाउडर (मुंहास खत्म करने में सहायक) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)

1. नारियल तेल में हल्दी पाउडर डालिए

हल्दी पाउडर को नारियल तेल में डालिए

  • एक बड़ा चम्मच नारियल तेल में एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर डालें|

2. इन्हें अच्छे से मिलाकर मुंहासों पर इस्तेमाल करें

इन्हें अच्छे से मिला लें
हल्दी और नारियल तेल से मुंहासों का उपचार कीजिये
  • दोनों पदार्थों को अच्छी तरह से मिला लें|
  • इस मिश्रण को रुई की सहातया से मुंहासों पर लगाएं|
  • इसे पांच से सात मिनट तक ऐसे ही लगा रहने दें| इस बीच आप बिस्तर या अन्य साफ कपड़ों से दूर रहें, ताकि कपड़ों पर हल्दी के दाग न लग जाएँ|
  • फिर त्वचा को ठण्डे पानी से धोकर तौलिया से पोछ लें|

कील-मुंहासों को खत्म करने के लिए रात में सोने से पहले प्रतिदिन इस उपचार का इस्तेमाल करें|

विधि 3: बेकिंग सोडा और नारियल तेल का इस्तेमाल

बेकिंग सोडा त्वचा को गहराई तक साफ करता है और यह रोम छिद्रों से धूल व मृत कोशिकाओं को हटाकर मुंहासों को खत्म करता है| नारियल तेल सूजन को कम करके मुंहासों को जल्दी ठीक करता है|

बेकिंग सोडा कुछ प्रकार की त्वचा को रूखा बना देता है, इसलिए आपको त्वचा पर सिर्फ बेकिंग सोडा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए| लेकिन आप इसे नारियल तेल के साथ मिलाकर आसानी से उपयोग कर सकते हैं| नारियल तेल के साथ इस्तेमाल करने से यह आपकी त्वचा को नमी और पोषण प्रदान करता है|

नोट: बेकिंग सोडा और नारियल तेल की मुहासों पे लगाने से पहले से अपने बांह के अंदरूनी हिस्से पर लगा के देख ले, अगर आपको जलन महसूस हो रही हो तो इस विधि का इस्तेमाल न करें|

आवश्यक सामग्री:

बेकिंग सोडा के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

Advertisements
  • शुद्ध नारियल तेल (मुंहासों को ठीक करता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)
  • बेकिंग सोडा (त्वचा को प्राकृतिक रूप से साफ करता है) -  एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)

1. नारियल तेल में बेकिंग सोडा डालें

बेकिंग सोडा और नारियल तेल को मिला लें

  • एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच शुद्ध नारियल तेल डालें|
  • इसमें एक छोटा चम्मच बेकिंग सोडा डालें|

2. मिश्रण तैयार करके मुंहासों पर लगाएं

तैयार मिश्रण को मुंहासों पर लगाएं
मुंहासों पर इस मिश्रण का उपयोग करें
  • दोनों पदार्थों को अच्छी तरह से मिला लें|
  • तैयार मिश्रण को रुई की सहायता से मुंहासों पर लगाएं|
  • तीन से चार मिनट बाद त्वचा को ठण्डे पानी से धोकर तौलिया से पोछ लें|

मुंहासों के खत्म होने तक इस मिश्रण का इस्तेमाल करें| आपको एक से दो दिन के इस्तेमाल से ही परिणाम देखने को मिल जायेंगे, लेकिन मुंहासों के पूरी तरह से खत्म होने में एक सप्ताह का समय लग सकता है| यह मुंहासों की गंभीरता पर निर्भर करता है|

विधि 4: एलोवेरा, शहद के साथ नारियल तेल का इस्तेमाल

एलोवेरा और शहद के साथ नारियल तेल का इस्तेमाल हर प्रकार की त्वचा के लिए उपयुक्त होता है| एलोवेरा प्राकृति का सर्वश्रेष्ठ उपचार होता है| शहद और नारियल तेल के साथ एलोवेरा के इस्तेमाल से यह मुंहासों में होने वाले दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होता है|

एलोवेरा और शहद; दोनों ही बैक्टीरिया को खत्म करने में सहायक हैं, जिससे त्वचा का इन्फेक्शन (संक्रमण) खत्म किया जा सकता है|

अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो कभी-कभी त्वचा से अतिरिक्त तेल का उत्पादन होने लगता है, जिससे मुँहासे होने लगते हैं| एलोवेरा और शहद त्वचा को प्राकृतिक रूप से नमी प्रदान करने का काम करते हैं, जिससे अतिरिक्त तेल के करण होने वाले मुंहासों से छुटकारा मिलता है|

आवश्यक सामग्री:

एलोवेरा और शहद के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • शहद (प्राकृतिक मॉइस्चराइजर) – दो बड़े चम्मच (लगभग 30 ग्राम)
  • शुद्ध नारियल तेल (इन्फेक्शन खत्म करता है) – दो बड़े चम्मच (लगभग 30 मिली0)
  • एलोवेरा जेल (मुंहासों को ठीक करता है) – दो बड़े चम्मच (लगभग 30 मिली0)

1. शहद, नारियल तेल और एलोवेरा को मिला लें

एलोवेरा, शहद और नारियल तेल को मिला लें

  • एक कटोरी में दो बड़े चम्मच शहद डालें|
  • इसमें दो बड़े चम्मच शुद्ध नारियल तेल डालें|
  • अब इसमें दो बड़े चम्मच एलोवेरा जेल डालें|
  • इस उपचार के लिए ताजे एलोवेरा जेल का इस्तेमाल बेहतर रहता है|

2. इन्हें अच्छे से मिलाकर मुंहासों पर लगाएं

तैयार मिश्रण का इस्तेमाल करें
इस मिश्रण से मुंहासे खत्म करे
  • तीनों पदार्थों को अच्छी तरह से मिला लें|
  • तैयार मिश्रण को मुंहासों वाली त्वचा पर लगाएं|
  • इसे लगभग आधे घंटे तक त्वचा पर ही लगा रहने दें|
  • फिर त्वचा को गुनगुने पानी से धोकर तौलिया से पोछ लें|

बेहतर परिणाम पाने के लिए प्रतिदिन इस उपचार का इस्तेमाल करें|

सुझाव

  • आपको हमेशा अच्छा नारियल तेल इस्तेमाल करना चाहिए| खराब नारियल तेल के इस्तेमाल के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं| मुंहासों के इलाज क लिए शुद्ध नारियल तेल का इस्तेमाल बेहतर रहता है|
  • हल्दी के इस्तेमाल में सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि आपकी त्वचा पर लगे हल्दी के दाग आसानी से मिट जाते हैं, लेकिन कपड़ों पर लगे दाग आसानी से साफ नहीं होते हैं|
  • ऊपर बताये गए सभी उपचारों को तुरंत इस्तेमाल के लिएय कम मात्रा में तैयार कीजिये| इन उपचारों को एक सप्ताह तक सुरक्षित रखा जा सकता है|
Advertisements