क्या आज सुबह उठने पर आपकी जीभ पर कुछ जमा हुआ महसूस हो रहा था? जीभ पर सफ़ेद परत जमा हो जाने पर घबराने की जरूरत नहीं है| जीभ पर जमी सफ़ेद परत आपको कोई नुकसान नहीं पहुंचाती है और इससे छुटकारा पाना कोई मुश्किल काम नहीं है|

जब आपकी जीभ की ऊपरी सतह पर संक्रमण हो जाता है, तो यह सफ़ेद परत जैसा दिखने लगता है| इस संक्रमण में मृत कोशिकाएं, भोजन के कुछ अंश और बैक्टीरिया जमा होते जाते हैं| इससे आपकी जीभ सफ़ेद दिखती है और कभी-कभी तो मुंह से बदबू भी आने लगती है|

Advertisements

जीभ पर जमा सफ़ेद परत से छुटकारा पाएँ

जीभ पर सफ़ेद परत जमा होने के कारण

प्रतिदिन टूथब्रश करने और जीभ की सफाई करने से जीभ पर जमा सफ़ेद परत अपने आप ही साफ़ होती जाती है| कभी-कभी जीभ पर सफ़ेद परत जमा होने से सूजन भी आ जाती है|

जीभ पर सफ़ेद परत जमा होने के सामान्य कारण इस प्रकार से हैं:

  • शरीर में पानी की कमी (डीहाइड्रेशन)
  • कैंडिडा यीस्ट इन्फेक्शन(संक्रमण)
  • बैक्टीरियल इन्फेक्शन(संक्रमण)
  • मुंह की सफाई ठीक से न करना
  • मुंह सूखा रहना
  • बुखार
  • एंटीबायोटिक्स दवाओं, स्टेरॉयड या किसी अन्य दवा की प्रतिक्रिया
  • धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन
  • मसालेदार भोजन का सेवन
  • जन्म से ही दिल की बीमारियाँ होना

जीभ पर सफ़ेद परत जमा होने की रोकथाम

जीभ पर सफ़ेद परत जमा होने से बचने के लिए कई उपचार किये जा सकते हैं| यहाँ पर कुछ आसान उपाय बताये जा रहे हैं:

Advertisements
  • प्रतिदिन दांतों में ब्रश करें और जीभ को साफ़ करें|
  • जीभ को साफ़ करने के लिए टंग क्लीनर का इस्तेमाल करें| हर बार टंग क्लीनर के उपयोग के बाद इसे साफ़ करें|
  • हर बार खाना खाने के बाद कुल्ला करने के लिए एंटीसेप्टिक माउथवॉश का इस्तेमाल करें| इससे पूरे मुंह की सफाई हो जायेगी और जीभ पर सफ़ेद परत भी जमा नहीं होगी|
  • जब आपकी जीभ पर सफ़ेद परत जमा हो, तो अधिक चीनीयुक्त भोजन और डेयरी उत्पादों का सेवन न करें|
  • डीहाइड्रेशन से बचने के लिए अधिक मात्रा में पानी पियें| बार-बार पानी पीने से जीभ के साथ-साथ मुंह भी साफ़ होता रहता है और जीभ पर कीटाणु भी जमा नहीं हो पाते हैं|
  • ताजे फल और सब्जियों का सेवन करें| फाइबरयुक्त और कुरकुरे भोजन आपकी जीभ और पेट साफ़ करने में सहायक हैं|

जीभ पर जमी सफ़ेद परत हटाने के घरेलू उपचार

आप कुछ आसान घरेलू उपचारों को अपनाकर जीभ पर जमा सफ़ेद परत से छुटकारा पा सकते हैं| यहाँ जीभ पर जमी सफेद परत का इलाज बताया जा रहा है|

विधि 1: नमक

जीभ पर जमा सफ़ेद परत से निजात पाने के लिए नमक का इस्तेमाल सबसे उपयुक्त उपचार है| इससे जीभ की ऊपरी परत पर जमा दानेदार ग्रैनुला, सफ़ेद परत बनाने वाले बैक्टीरिया और अन्य खराब पदार्थ आसानी से निकल जाते हैं| यह जीभ पर जमी सफेद परत का इलाज है|

नमक एक एंटीसेप्टिक की भांति कार्य करता है| इसलिए नियमित रूप से नमक के पानी से कुल्ला करने से मुंह की समस्याएं; जैसे मुंह के छाले, दांत दर्द कोसों दूर रहते हैं|

नमक के पानी से कुल्ला कीजिये

नमक एक एंटीसेप्टिक होता है
नमक के पानी से कुल्ला करने से जीभ पर जमा सफेद परत निकल जाती है
  • एक गिलास (लगभग 250 मिली0) गर्म पानी में एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम) नमक डालिए|
  • इसे पानी में अच्छे से मिला लीजिये|
  • अब इस पानी से कुल्ला कीजिये| फिर एक मिनट तक गरारा कीजिये और थूक दीजिये|

लगातार तीन से चार दिनों तक नमक के पानी से कुल्ला कीजिये| यह जीभ पर जमी सफेद परत का इलाज है|

अगर आप चाहें, तो टूथब्रश को गीला करके एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम) नमक में डुबोकर इससे जीभ में ब्रश कीजिये| फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लीजिये| इससे आपको तुरंत परिणाम देखने को मिलेंगे| जीभ पर जमी सफेद परत के इलाज के लिए दिन में दो से तीन बार इसका इस्तेमाल कीजिये|

विधि 2: तेल से कुल्ला करना (ऑयल पुलिंग)

मुंह की समस्याओं; जैसे जीभ पर सफ़ेद परत जमा हो जाने से छुटकारा पाने के लिए तेल से कुल्ला करना (ऑयल पुलिंग) एक बेहतर तरीका है|

Advertisements

तेल, मुंह की समस्याएं पैदा करने वाले यीस्ट को हटा देता है| यह यीस्ट भी जीभ पर सफ़ेद परत जमने का एक कारण होता है| यह जीभ पर जमी सफेद परत का इलाज है|

नियमित रूप से तेल का इस्तेमाल करने से मुंह का स्वास्थ्य अच्छा रहता है| तेल से कुल्ला (ऑयल पुलिंग) करने के लिए आप शुद्ध नारियल तेल या तिल के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं|

प्रतिदिन तेल से कुल्ला (ऑयल पुलिंग) कीजिये

तेल को मुंह में भरकर कुल्ला कीजिये
तेल को मुंह में भरकर कुल्ला करने से जीभ पर जमा सफ़ेद परत हट जाती है
  • सुबह-सुबह कुछ भी खाने या ब्रश करने से पहले एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0) शुद्ध नारियल तेल को मुंह में भर लीजिये|
  • इससे पंद्रह मिनट तक कुल्ला (ऑयल पुलिंग) कीजिये|
  • फिर इसे कूड़ेदान में थूक दीजिये| इस तेल को निगलिये नहीं क्योंकि इसमें जीभ के खराब पदार्थ मिल गए हैं|
  • अब गुनगुने पानी से कुल्ला कर लीजिये और उसके बाद टूथब्रश कर लीजिये|

इसके एक इस्तेमाल से ही आपकी जीभ पर जमा सफ़ेद परत हट जायेगी| जीभ पर संक्रमण होने से बचने के लिए तीन से चार दिनों तक प्रत्येक सुबह तेल से कुल्ला कीजिये| ऑयल पुलिंग एक उपयोगी घरेलू नुस्खा है|

विधि 3: प्रोबायोटिक्स (एसिडोफिलस)

अगर आपकी जीभ पर कैंडिडा फंगस के कारण सफ़ेद परत जमा हो गयी है, तो प्रोबायोटिक (एसिडोफिलस) से कुल्ला करके जीभ पर जमा सफ़ेद परत से छुटकारा पाया जा सकता है| प्रोबायोटिक में अच्छे बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो जीभ की सफ़ेद परत को हटाने में प्रभावी होते हैं|

Advertisements

प्रतिदिन प्रोबायोटिक्स से कुल्ला कीजिये

प्रोबायोटिक्स का सेवन कीजिये
जीभ पर जमा सफेद परत से छुटकारा पाने के लिए प्रोबायोटिक्स का उपयोग कीजिये
  • रात में अपने दांतों में ब्रश करने के बाद एक प्रोबायोटिक कैप्सूल से तेल निकाल लें|
  • एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0) पानी में प्रोबायोटिक कैप्सूल से निकला गया तेल मिला दें|
  • इस पानी को मुंह में भरकर एक मिनट तक कुल्ला कीजिये| फिर इसे थूक दीजिये| इसके बाद आपको पानी पीने की आवश्यकता नहीं है|

अगली सुबह आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे| जीभ पर जमा सफ़ेद परत से पूरी तरह से छुटकारा पाने के लिए एक सप्ताह तक इसका इस्तेमाल कीजिये|

संक्रमण से बचने के लिए आप एक माह तक दिन में दो बार प्रोबायोटिक सप्लीमेंट भी ले सकते हैं| सप्लीमेंट के सेवन से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें|

विधि 4: वेजिटेबल ग्लिसरीन

अगर आपका मुंह सूख जाने के कारण जीभ पर सफ़ेद परत जमा हो गयी है, तो वेजिटेबल ग्लिसरीन एक सस्ता और सरल इलाज है| यह नमी प्रदान करने के काम करता है| इस प्रकार से आपकी जीभ को सफ़ेद परत से छुटकारा मिलता है| ग्लिसरीन मुंह की बदबू भी मिटाता है|

जीभ पर वेजिटेबल ग्लिसरीन से ब्रश कीजिये

वेजिटेबल ग्लिसरीन से ब्रश कीजिये
वेजिटेबल ग्लिसरीन से ब्रश करने पर जीभ पर जमा सफ़ेद परत खत्म हो जाती है
  • एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0) वेजिटेबल ग्लिसरीन को जीभ पर रखिये|
  • एक मुलायम टूथब्रश से जीभ पर तीस से साठ सेकंड तक ब्रश कीजिये|
  • फिर बचे हुए ग्लिसरीन को थूक दीजिये और गर्म पानी से कुल्ला कर लीजिये|

जीभ पर जमी सफेद परत के इलाज के लिए इसे एक सप्ताह तक इस्तेमाल करते रहिये| इसे दिन में दो बार इस्तेमाल करने से आपको मुंह सूखने की समस्या से भी निजात मिल जाएगा| यह जीभ पर जमी सफेद परत का इलाज है|

विधि 5: हाइड्रोजन परॉक्साइड

जीभ पर जमा सफ़ेद परत के बैक्टीरिया को मारने के लिए हाइड्रोजन परॉक्साइड का उपयोग किया जाता है| यह एक शक्तिशाली रोगाणुनाशी होता है|  इसमें ब्लीच करने का गुण भी पाया जाता है, जो आपके दांतों को भी सफ़ेद बनाता है| ध्यान रखिये कि आपको 3% फ़ूड ग्रेड हाइड्रोजन परॉक्साइड का ही इस्तेमाल करना है|

आवश्यक सामग्री:

Advertisements

हाइड्रोजन परॉक्साइड के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • 3% फ़ूड ग्रेड हाइड्रोजन परॉक्साइड (रोगाणुओं को खत्म करता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)
  • पानी – एक कप (लगभग 250 मिली0)
  • मुलायम टूथब्रश

पानी में हाइड्रोजन परॉक्साइड मिलाकर इससे जीभ पर ब्रश कीजिये

हाइड्रोजन परॉक्साइड को पानी में मिलाकर जीभ पर ब्रश कीजिये
हाइड्रोजन परॉक्साइड के इस्तेमाल से जीभ पर जमी सफ़ेद परत को हटाया जा सकता है
  • एक कप पानी में एक बड़ा चम्मच हाइड्रोजन परॉक्साइड मिलाएं|
  • एक मुलायम टूथब्रश को इस मिश्रण में डुबोएं और इससे जीभ पर धीरे-धीरे ब्रश करें|
  • फिर सादे पानी से कुल्ला कर लीजिये|
नोट: ध्यान रखिये कि हाइड्रोजन परॉक्साइड का इस्तेमाल करते समय यह आपके पेट में न जाए क्योंकि यह आपके लिए हानिकारक हो सकता है|

जीभ पर जमी सफेद परत के इलाज के लिए एक सप्ताह तक दिन में एक बार हाइड्रोजन परॉक्साइड का इस्तेमाल कीजिये| आप इस मिश्रण से दांतों में भी ब्रश कर सकते हैं| जीभ पर ब्रश करने के बाद टूथब्रश को अच्छे से धोना न भूलें|

सुझाव

  • मुंह के बैक्टीरिया को खत्म करने के लिये दिन में दो से तीन कप ग्रीन टी का सेवन कीजिये| ग्रीन टी के सेवन से आपका वजन भी नियंत्रण में रहेगा| ग्रीन टी में अन्य कई प्रकार के फायदे पाए जाते हैं|
  • आप अपने डॉक्टर से परामर्श लेकर लहसुन के सप्लीमेंट भी ले सकते हैं| लहसुन में एलेसिन नामक सक्रिय यौगिक पाया जाता है, जो एंटीफंगल होता है और मुंह में होने वाले फंगल इन्फेक्शन को नियंत्रित करता है|
  • मुंह के छालों को ठीक करने के लिए प्रोबायोटिक दही (योगर्ट) का सेवन कीजिये|
Advertisements