हम सभी चाहते हैं कि हमारी त्वचा कोमल एवं बेदाग़ रहे| लेकिन मुंहासों के फूट जाने या बढ़ती उम्र के कारण त्वचा पर डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बे पड़ जाते हैं| मुंहासों से छुटकारा पाने के बाद अब बारी है- जिद्दी डार्क स्पॉट को हटाने की|

मिलेनिन नामक पदार्थ हमारी त्वचा के रंग का निर्धारण करता है| जब शरीर में मिलेनिन की अधिकता हो जाती है, तो शरीर के अलग-अलग हिस्सों; जैसे चेहरे, गर्दन और हाथों पर डार्क स्पॉट या काले दाग-धब्बे पड़ जाते हैं| गहरे रंग की त्वचा वाले लोगों में डार्क स्पॉट या चेहरे पर दाग-धब्बे पड़ जाना एक आम समस्या है|

Advertisements

चेहरे पर डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बे हो जाने के कई कारण हो सकते हैं|

चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को कैसे हटायें

Contents

डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बे होने के कारण

  • सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणें आपकी त्वचा को हानि पहुंचाती हैं| जिससे शरीर में मिलेनिन का उत्पादन बढ़ जाता है| इसी कारण हाइपर पिग्मेंटेशन (त्वचा का रंग गहरा हो जाने) की समस्या हो जाती है| शरीर के जो हिस्से खुले रहते हैं, उन हिस्सों में ही ये डार्क स्पॉट या दाग-धब्बे हो जाते हैं|
  • कई बार ऐसा होता है कि ये डार्क स्पॉट या दाग-धब्बे; मुंहासों के फूटने के कारण हो जाते हैं|
  • एक अध्ययन के अनुसार वातावरण में मौजूद प्रदूषण और सूर्य की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणें भी चेहरे पर डार्क स्पॉट या काले दाग-धब्बे हो जाने का कारण होती हैं| आजकल की भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी में धूल-मिट्टी, पसीने और धूप से त्वचा बेजान हो जाती है| वातावरण में मौजूद प्रदूषण में नाइट्रोजन ऑक्साइड (NO2) अधिक मात्रा में पाया जाता है| गालों पर डार्क स्पॉट होने का यह भी एक कारण होता है क्योंकि गालों की त्वचा काफी कोमल होती है|
  • एक अध्ययन में सामने आया कि कंप्यूटर स्क्रीन, टी0वी0 स्क्रीन और फ्लोरोसेंट प्रकाश भी समय के साथ-साथ डार्क स्पॉट/ काले दाग-धब्बे होने का कारण होता है|
  • गर्भावस्था को रोकने के लिए आपके शरीर के प्राकृतिक एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन स्तर में बदलाव आते हैं| हार्मोन में आने वाले ये बदलाव भी हाइपर पिग्मेंटेशन (त्वचा का रंग गहरा हो जाने) का कारण होते हैं|

डार्क स्पॉट को कैसे रोकें

  • त्वचा पर होने वाले डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों से बचने के लिए अधिक देर धूप में रहने से बचना चाहिए| अच्छी किस्म की सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए| प्रतिदिन कम-से-कम 15 SPF वाले मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल कीजिये| सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक सूर्य की किरणें काफी हानिकारक होती हैं| इसलिए इस समय धूप में निकलने से बचें| चौड़े किनारे वाली टोपी, स्कार्फ (दुपट्टा), छाता और धूप के चश्में पहनें|
  • डार्क स्पॉट से बचने के लिए आपको मुंहासों को फोड़ना नहीं चाहिए|
  • चेहरे पर बार-बार होने वाले डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों से बचने के लिए आपको अधिक देर प्रदूषण में नहीं रहना चाहिए| दिन में कम-से-कम दो बार चेहरे को साफ़ कीजिये और सप्ताह में दो बार चेहरे पर स्क्रब कीजिये| धूम्रपान न करें|
  • आपको क्लोरीनयुक्त पानी से चेहरे को नहीं धोना चाहिए क्योंकि क्लोरीनयुक्त पानी डार्क स्पॉट को हल्का नहीं होने देता है|
  • प्रतिदिन आठ से दस गिलास पानी पीजिये तथा विटामिन-ई और सी पर्याप्त मात्रा में लें| ये विटामिन, शरीर में एंटीऑक्सीडेंट का काम करते हैं और आपकी त्वचा को प्रदूषण से बचाने के लिए आवश्यक होते हैं| आंकड़े बताते हैं कि विटामिन-सी को सीरम या क्रीम के रूप में नियमित इस्तेमाल करने से त्वचा की रंगत में निखार आता है|
  • यदि आप पूरा दिन कंप्यूटर पर काम करते हैं, तो बीच-बीच में कुछ सेकंड के लिए अपनी आँखें बंद कर लीजिये क्योंकि कंप्यूटर की स्क्रीन से आँखों के लिए हानिकारक किरणें निकलती रहती हैं| रोजाना लंबे समय तक इन किरणों से संपर्क में रहने से भी डार्क स्पॉट हो जाते हैं|
  • हार्मोन में बदलाव होने से भी डार्क स्पॉट होने लगते हैं| अधिक तनाव लेने, प्रोसेस्ड फ़ूड, अधिक मसाले वाले भोजन; जैसे रेड मीट आदि के सेवन से हार्मोन में बदलाव होने लगता है| आप अपने डॉक्टर से सलाह लेकर कम खुराक वाले हार्मोन की गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करें क्योंकि शरीर में हार्मोन का स्तर अधिक होने से मिलेनिन का उत्पादन अधिक हो जाता है, जिससे डार्क स्पॉट होते हैं|

चेहरे के डार्क स्पॉट से आसानी से पायें छुटकारा जब आपके चेहरे पर अधिक डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बे हो जाते हैं, तो आपको लोगों के बीच जाने पर काफी असहज महसूस होता है| अंत में आप इन डार्क स्पॉट्स को मेकअप के नीचे छिपाने लगते हैं| लेकिन आप हमेशा ऐसा नहीं कर सकते हैं| कुछ घरेलू उपचारों के इस्तेमाल से आप चेहरे के डार्क स्पॉट को हटा सकते हैं| इन घरेलू उपचार में उपयोग की जाने वाले सामग्री आपको रसोई या फ्रिज में ही मिल जायेगी|

डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बे खत्म करने के लिए बाजार में कई दवाएं और क्रीम मौजूद हैं, लेकिन ये दवाएं और क्रीम डार्क स्पॉट को हल्का करने के साथ-साथ आपकी त्वचा को नुकसान भी पहुंचाती हैं| प्राक्रतिक उपचारों के इस्तेमाल से आपकी त्वचा को कोई हानि नहीं होती है| जब प्राकृतिक पदार्थों को सही अनुपात में मिलाया जाता है, तो ये उपचार डार्क स्पॉट को धीरे-धीरे हल्का करते जाते हैं| कई दवाओं और क्रीम में वे तत्व पाए जाते हैं, जो घरेलू उपचारों में प्राकृतिक रूप से मौजूद होते हैं|

Advertisements

अच्छी तरह से त्वचा की देखभाल करने से आपको बिना किसी साइड इफेक्ट के अच्छे परिणाम भी प्राप्त होंगे|

यहाँ चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए छह आसान घरेलू उपचार दिए गए हैं| आप अपनी त्वचा के अनुसार इन उपचारों का चयन करें|

डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को कैसे हटायें

विधि 1: नींबू के रस का इस्तेमाल

नींबू के रस का उपचार #1

  • नींबू के रस में पाया जाने वाला साइट्रिक एसिड त्वचा पर प्राकृतिक ब्लीच का काम करता है| त्वचा की रंगत में निखार लाने के लिए कई सालों से नींबू के रस का इस्तेमाल किया जाता रहा है| त्वचा के डार्क स्पॉट को हल्के करने के लिए भी नींबू के रस का उपयोग किया जाता है|

आवश्यक सामग्री:

नींबू के रस द्वारा काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का रस (प्राकृतिक ब्लीच) – एक नींबू

नींबू का रस लगाकर दस मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दीजिये

चेहरे पर रुई की सहायता से नींबू का रस लगाइए
नींबू के रस द्वारा चेहरे के काले दाग-धब्बों से आसानी से छुटकारा पायें
  • रुई में नींबू का रस लेकर डार्क स्पॉट पर लगाइए|
  • आप नींबू के रस को पूरे चेहरे पर भी लगा सकते हैं|
  • इसे दस से पंद्रह मिनट के लिए ऐसे ही लगा रहने दीजिये फिर पानी से चेहरा धो लीजिये| इसे पंद्रह मिनट से अधिक समय के लिए चेहरे पर न लगायें क्योंकि इससे आपकी त्वचा में जलन हो सकती है|
  • चेहरा धोने के बाद सौम्य मॉइस्चराइजर लगा लीजिये|

बेहतर परिणाम पाने के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो या तीन बार इस्तेमाल कीजिये|

यदि नींबू का रस आपकी त्वचा के लिए उपयुक्त नहीं है, तो आप नींबू के रस में गुलाबजल और ग्लिसरीन मिला लें|

Advertisements

नींबू के रस का उपचार #2

यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो आप नींबू के रस में गुलाबजल और ग्लिसरीन मिलाकर इस्तेमाल करें| गुलाबजल न केवल नींबू के रस की तीव्र प्रकृति को कम करता है, बल्कि डार्क स्पॉट को भी हल्का करने में सहायक है| ग्लिसरीन; नींबू के रस की त्वचा को रूखा करने की प्रकृति को कम करता है और त्वचा में पर्याप्त नमी बनाये रखता है|

आवश्यक सामग्री:

नींबू के रस द्वारा काले दाग-धब्बों के उपचार के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का रस – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0)
  • गुलाबजल (त्वचा की रंगत में निखार लाता है) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0)
  • ग्लिसरीन (रूखापन कम करता है) – एक छोटा चम्मच ( लगभग 5 मिली0)

सभी सामग्रियों को नींबू के रस में मिलाकर इस्तेमाल करें

गुलाबजल और ग्लिसरीन को नींबू के रस में मिलाकर इस्तेमाल करें

Advertisements
  • एक छोटा चम्मच नींबू का ताजा रस लीजिये|
  • इसमें एक-एक छोटा चम्मच गुलाबजल और ग्लिसरीन मिलाइये| यदि आपके पास गुलाबजल नहीं है, तो आप इसमें सादा पानी भी मिला सकते हैं|
  • तैयार मिश्रण को रुई में लेकर चेहरे पर लगाइए|
  • इसे दस से पंद्रह मिनट के लिए लगा रहने दीजिये| फिर चेहरे को पानी से धो लीजिये|
  • इसके बाद चेहरे पर एक सौम्य मॉइस्चराइजर लगा लीजिये|

इस विधि से डार्क स्पॉट्स को हटाने में थोड़ा समय लग सकता है| लेकिन संवेदनशील त्वचा के लिए यह काफी सौम्य उपचार है| डार्क स्पॉट्स हल्के होने तक सप्ताह में दो या तीन बार इस उपचार का इस्तेमाल कीजिये|

गुलाबजल और ग्लिसरीन को नींबू के रस में मिलाकर इस्तेमाल करें
नींबू के रस के मिश्रण द्वारा चेहरे के डार्क स्पॉट से आसानी से छुटकारा पायें

विधि 2: आलू के रस का इस्तेमाल

आलू में विटामिन-सी जैसा प्राकृतिक एंजाइम पाया जाता है| आलू का रस प्राकृतिक घरेलू स्क्रब का काम करता है| यह आपकी त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाकर डार्क स्पॉट को हल्का करता है|

आवश्यक सामग्री:

आलू के रस द्वारा काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • छिले हुए आलू (सौम्य और प्रभावशाली) – 2
  • कद्दूकस

1. आलू को कस लें

कद्दूकस की सहायता से आलू को कस लें

  • मध्यम आकार की दो आलू छील लें|
  • दोनों आलू को एक कटोरे में कद्दूकस कर लें|

2. आलू का रस निकाल लें

कद्दूकस किये गए आलू का रस निकाल लें

Advertisements
  • कद्दूकस किये गए आलू को जालीदार कपड़े में रखकर एक गठरी बना लें|
  • इस गठरी को एक कटोरे में निचोड़कर आलू का रस निकाल लें|
  • इस रस को डार्क स्पॉट्स पर लगाइए|

यदि आप डार्क स्पॉट्स से जल्द-से-जल्द छुटकारा पाना चाहते हैं, तो आप इसमें नींबू का रस और शहद भी मिला सकते हैं| नींबू का रस प्राकृतिक रूप से त्वचा की रंगत में निखार लाता है और शहद त्वचा को नमी प्रदान करता है|

3. (वैकल्पिक) नींबू का रस और शहद मिलाकर बीस मिनट तक लगाइए

आलू के रस में नींबू का रस और शहद मिलाए

  • इसी कटोरे में एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0) नींबू का रस मिलाएं| नींबू के रस में त्वचा की रंगत हल्की करने का गुण पाया जाता है|
  • इसमें एक छोटा चम्मच शहद डालकर अच्छे से मिला लें| शहद; नींबू की रूखा करने की प्रकृति को खत्म करता है| यह त्वचा में पर्याप्त नमी और इसे स्वस्थ बनाये रखता है| इसप्रकार से यह उपचार डार्क स्पॉट को जल्दी से ठीक करता है|
  • रुई की सहायता से तैयार मिश्रण को चेहरे पर लगा लीजिये|
  • इसे बीस मिनट तक लगा रहने दीजिये|
  • फिर पानी से चेहरा धो लीजिये|

चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए इस उपचार को सप्ताह में दो या तीन बार इस्तेमाल कीजिये|

आलू के रस में नींबू का रस और शहद मिलाकर लगाइए
इस घरेलू नुस्खों से चेहरे के काले दाग-धब्बे हटायें

विधि 3: हल्दी के फेस पैक का इस्तेमाल

भारत में सुन्दरता के लिए कई सालों से हल्दी का उपयोग होता रहा है| हल्दी में करक्यूमिन पाया जाता है, जो त्वचा के रंग को गहरा होने से रोकता है| इसके इस्तेमाल से डार्क स्पॉट्स कम होने लगते हैं और धीरे-धीरे त्वचा की रंगत में निखार आता जाता है| हल्दी, नींबू के रस और दूध से बनाया गया पेस्ट चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को हटाने का एक अच्छा उपचार है|

नींबू का रस त्वचा पर प्राकृतिक ब्लीच का काम करता है| दूध को त्वचा की रंगत में निखार लाने के लिए इस्तेमाल किया गया है| लेकिन जब हम दूध में नींबू का रस मिलाते हैं, तो इस खट्टे दूध में लैक्टिक अम्ल का उत्पादन होने लगता है| यह भी त्वचा की रंगत में निखार लाने का काम करता है|

यदि हल्दी के इस्तेमाल से आपकी त्वचा पर पीले निशान बन गए हैं, तो ये कुछ दिनों में अपने आप ही चले जायेंगे| चेहरे पर हल्दी के पेस्ट का इस्तेमाल करने से पहल आप यह सुनिश्चित कर लें कि आपको कहीं जाना तो नहीं है| आप इस उपचार का इस्तेमाल रात में सोने से पहले कीजिये|

आवश्यक सामग्री:

हल्दी के फेस पैक द्वारा काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • हल्दी पाउडर (त्वचा के रंग को गहरा होने से रोकता है) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • दूध (त्वचा की रंगत में निखर लाता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)
  • नींबू का रस – आधा छोटा चम्मच (लगभग 3 मिली0)

हल्दी, दूध और नींबू का पेस्ट बनाकर 10 मिनट के लिए लगा लें

छोटे कटोरे में हल्दी, दूध और नींबू का पेस्ट बना लें

  • एक छोटे कटोरे में एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर ले लीजिये|
  • इसमें एक बड़ा चम्मच दूध और आधा छोटा चम्मच नींबू का ताजा रस मिलाइये|
  • इन्हें अच्छे से मिला लीजिये|
  • रुई में हल्दी का पेस्ट लेकर इसे चेहरे पर लगाइए|
  • इसे अपने चेहरे पर 10 से 15 मिनट तक लगा रहने दीजिये| फिर पानी से चेहरा धो लीजिये|
  • यदि आपके चेहरे पर हल्दी के निशान बन गए हैं, तो आप एक सौम्य साबुन से चेहरा धो सकते हैं|

चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए सप्ताह में दो बार इस पेस्ट का इस्तेमाल कीजिये|

पेस्ट को चेहरे पर लगा लें
हल्दी के फेस पैक द्वारा काले दाग-धब्बों का उपचार करें

विधि 4: टमाटर-ओटमील (जई की दलिया) स्क्रब

ओटमील (जई की दलिया) त्वचा को साफ़ करने का काम करता है| लाल टमाटर का गूदा और नींबू के रस में विटामिन-सी पाया जाता है तथा लाल टमाटर के गूदे में त्वचा को ठंडक प्रदान करने का गुण भी पाया जाता है| इन पदार्थों को मिलाकर इस्तेमाल करने से ओटमील (जई की दलिया) त्वचा की गहरी हो चुकी रंगत को निखारता है|

आवश्यक सामग्री:

टमाटर-ओटमील स्क्रब द्वारा काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आवश्यक सामग्री

Advertisements
  • ओटमील (जई की दलिया) (त्वचा को साफ़ करने का काम करता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 ग्राम)
  • लाल टमाटर का गूदा (त्वचा को ठंडक प्रदान करता है) – दो बड़े चम्मच (लगभग 30 ग्राम)
  • नींबू का रस – आधा छोटा चम्मच (लगभग 3 मिली0)

 ओटमील (जई की दलिया), टमाटर का गूदा और नींबू के रस को मिलाकर लगाएं

कटोरे में ओटमील, टमाटर का गूदा और नींबू के रस के मिश्रण को लगाएं

  • एक कटोरे में एक बड़ा चम्मच ओटमील (जई की दलिया) लें|
  • इसमें दो बड़े चम्मच लाल टमाटर का गूदा मिलाइए| टमाटर का गूदा निकालने के लिए कच्चे टमाटरों का उपयोग करें| इन्हें अच्छे से मिला लें|
  • इसमें आधा छोटा चम्मच नींबू का ताजा रस मिलाएं| इन्हें मिलाकर एक पेस्ट बना लें|
  • अपनी उँगलियों से इस पेस्ट को चेहरे और गर्दन पर लगाइए|
  • इसे तीस मिनट तक लगा रहने दीजिये| फिर गुनगुने पानी से चेहरा धो लीजिये|

बेहतर परिणाम पाने के लिए सप्ताह में दो बार इस उपचार का इस्तेमाल कीजिये|

मिश्रण को लगाएं
टमाटर-ओटमील स्क्रब के घरेलू नुस्खों से चेहरे के काले दाग-धब्बे हटायें

विधि 5: छाछ/मट्ठे का इस्तेमाल

छाछ/मट्ठे में पाया जाने वाला लैक्टिक अम्ल आपकी त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है| यह आपकी त्वचा की रंगत में निखार लाता है और डार्क स्पॉट को हल्का करता है|

ताजा छाछ/मट्ठे को पंद्रह मिनट के लिए लगाइए

चेहरे पर ताजा छाछ/मट्ठे को पंद्रह मिनट के लिए लगाइए
छाछ/मट्ठे चेहरे के डार्क स्पॉट के लिए घरेलू उपचार हैं
  • रुई में ताजा छाछ/मट्ठा लेकर चेहर पर लगाइए|
  • इसे दस से पंद्रह मिनट के लिए लगा रहने दीजिये| फिर सादे पानी से चेहरा धो लीजिये|

यदि आपकी त्वचा अधिक संवेदनशील नहीं है, तो आप छाछ/मट्ठे का इस्तेमाल सप्ताह में दो बार कर सकते हैं|

विधि 6: एलोवेरा जेल का इस्तेमाल

एलोवेरा; त्वचा और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है| यह डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को धीरे-धीरे कम करता है और त्वचा की कोशिकाओं को नया बनाता है| एलोवीरा जेल के नियमित इस्तेमाल से आपकी त्वचा बेदाग़, स्वस्थ बन जायेगी तथा त्वचा में पर्याप्त नमी बनी रहेगी|

आवश्यक सामग्री:

एलोवेरा जेल द्वारा काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • एलोवेरा जेल (सूजन/जलन खत्म करने का गुण)

सप्ताह में दो बार अपने चेहरे पर एलोवेरा जेल लगाइए

एलोवेरा जेल को सप्ताह में दो बार रुई की सहायता से अपने चेहरे पर लगाइए
एलोवेरा जेल द्वारा चेहरे के डार्क स्पॉट से आसानी से पायें छुटकारा
  • रुई में एलोवेरा जेल लेकर चेहरे पर लगाइए|
  • इसे पंद्रह मिनट तक लगा रहने दीजिये और फिर चेहरा धो लीजिये|

चेहरे के डार्क स्पॉट/काले दाग-धब्बों को हटाने के लिए आप इसे सप्ताह में दो से तीन बार या डार्क स्पॉट खत्म होने तक इस्तेमाल कर सकते हैं|

सुझाव

  • चेहरे पर नींबू का रस इस्तेमाल करने के बाद धूप में निकलने से बचें| अगर आवश्यक हो तो चेहरा ढककर ही बाहर निकलें क्योंकि नींबू का रस आपकी त्वचा को संवेदनशील बना देता है| दिन के समय जब भी आप बाहर जा रहे हों तो अच्छी किस्म की सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें|
  • आप डार्क स्पॉट/काले दाग धब्बों को हटाने के लिए शहद और नींबू के रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं| इसके लिए आपको इन दोनों को समान मात्रा में मिलाना है और इस्तेमाल करना है|
  • किसी भी उपचार के इस्तेमाल से पहले उसे अपनी ऊपरी बांह में जांच कर लें|
  • किसी भी उपचार के लिए हमेशा ताजी सामग्रियों का ही इस्तेमाल करें|

 

Advertisements