पिछले कई दशकों में दंत विज्ञान काफी आगे बढ़ चुका है, लेकिन आज भी दुनिया भर की 70% आबादी को दांतों के डॉक्टर के पास जाने से डर लगता है| विशेष रूप से तब, जब आपको दांतों की सफाई के आलावा अन्य कोई समस्या होती है|

दांतों में दर्द होने के बावजूद भी अधिकांश लोग दांतों के डॉक्टर के पास नहीं जाते हैं| अक्सर यह दर्द कैविटी, मसूड़ों में दांतों की पकड़ ढीली होने, दांत टूटने या चोट लगने के कारण होता है| दांतों के अंदर के भाग को पल्प कहा जाता है| इस भाग में भी कभी-कभी इन्फेक्शन (संक्रमण) हो जाता है तथा सूजन आ जाती है और यह दांत दर्द का कारण बनता है|

Advertisements

दांत दर्द से रहत पाने के घरेलू उपाय

दांतों में हल्के दर्द से लेकर असहनीय दर्द तक हो सकता है| यह दर्द बहुत कष्टकारी होता है और ऐसा लगता है कि यह दर्द हमेशा के लिए बना रहेगा| दांत-दर्द होने पर खाना चबाने में तकलीफ, बोलने में परेशानी और मसूड़ों में सूजन व खून आने जैसी समस्याएं हो जाती हैं|

दांतों में दर्द होने पर दांतों के डॉक्टर के पास जाना सबसे सही रहेगा, लेकिन घर पर कुछ प्राकृतिक उपचारों के इस्तेमाल से आप दांत दर्द से तुरंत छुटकारा पा सकते हैं|

यहाँ दांत दर्द से तुरंत आराम पाने के दस घरेलू नुस्खे बताये जा रहे हैं|

Advertisements

Contents

विधि 1: नमक और काली मिर्च

नमक को काली मिर्च के साथ मिलाकर सेवन करने से यह दांत दर्द से बहुत जल्द आराम देता है| यह उपचार अधिक संवेदनशील दांतों के लिए बहुत फायदेमंद होता है|

नमक और काली मिर्च दोनों ही एंटीबैक्टीरियल होते हैं और दोनों में ही सूजन व दर्द कम करने का गुण पाया जाता है| इनके इस्तेमाल से मसूड़ों की सूजन कम होती जाती है और दर्द में आराम मिलता है|

आवश्यक सामग्री:

काली मिर्च और नमक के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नमक (दर्द कम करने का गुण) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • काली मिर्च (एंटीबैक्टीरियल) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • पानी-आवश्यकता अनुसार

1. नमक और काली मिर्च को मिला लें

काली मिर्च और नमक को मिला लीजिये

  • एक कटोरे में नमक और काली मिर्च की समान मात्रा ले लें| हमने एक-एक छोटे चम्मच सामग्रियों का इस्तेमाल किया है|
  • दोनों पदार्थों को अच्छे से मिला लें|

2. पेस्ट तैयार करके दांतों पर लगायें

काली मिर्च और नमक के मिश्रण में पानी मिलाएं
काली मिर्च और नमक के मिश्रण से दांतों का दर्द दूर करें
  • पेस्ट बनाने के लिए इसमें पर्याप्त पानी डालकर अच्छे से मिलाएं|
  • तैयार पेस्ट को दर्द करने वाले दांत पर लगायें|
  • इसे पंद्रह मिनट के लिए लगा रहने दीजिये, फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लीजिये|
  • बेहतर परिणाम के लिए इसे एक सप्ताह तक दिन में दो बार इस्तेमाल करें|

विधि 2: लहसुन

लहसुन में सूजन कम करने का गुण पाया जाता है, जो दर्द और असहजता से तुरंत आराम देने में सहायक है| लहसुन में एलेसिन भी पाया जाता है, जो एक शक्तिशाली एंटीबैक्टीरियल यौगिक होता है, जो मुंह के बैक्टीरिया को मारने का काम करता है|

Advertisements

आवश्यक सामग्री:

लहसुन के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • लहसुन, पिसा हुआ(प्राकृतिक एंटीबायोटिक) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • नमक (प्राकृतिक रूप से आराम पहुंचाता है) – आधा छोटा चम्मच (लगभग 3 ग्राम)

1. लहसुन और नमक को मिला लें

नमक और लहसुन को मिला लें

  • एक कटोरे में एक छोटा चम्मच पिसा हुआ लहसुन ले लें|
  • अब इसमें आधा छोटा चम्मच नमक डालें|

2. अच्छे से मिलाकर दर्द करने वाले दांत पर लगायें

नमक और लहसुन को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें
नमक और लहसुन का पेस्ट दांतों के दर्द से छुटकारा पाने का एक आसान उपाय है
  • लहसुन और नमक को चम्मच की सहायता से अच्छे से मिला लें
  • तैयार पेस्ट को दर्द करने वाले दांत पर लगायें|
  • इसे एक से दो घंटे के लिए ऐसे ही लगा रहने दीजिये और फिर गुनगुने पानी से कुल्ला कर लीजिये|
  • दिन में एक बार इस उपचार का इस्तेमाल कीजिये|

आप दांत दर्द से तुरंत आराम पाने के लिए लहसुन की एक से दो फांकियों को चबा भी सकते हैं|

Advertisements

विधि 3: लौंग का तेल

लौंग एक सदाबहार पेड़ से प्राप्त किया जाता है| लौंग या लौंग का तेल दांतों के दर्द को प्राकृतिक और प्रभावी रूप से कम करने का काम करता है| लौंग में यूजनोल पाया जाता है, जो एक रासायनिक यौगिक होता है, जो प्राकृतिक ऐनस्थेटिक की भांति कार्य करता है|

लौंग, मसूड़ों में आई सूजन कम करने का भी काम करती है| इसमें एंटीऑक्सीएंट और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जिससे इन्फेक्शन (संक्रमण) होने का खतरा कम रहता है|

आवश्यक सामग्री:

लौंग के तेल के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • लौंग का तेल (सूजन कम करता है) – चार से पांच बूँदें
  • ऑलिव ऑयल (आराम पहुंचाता है)- एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)

1. ऑलिव ऑयल में लौंग का तेल मिलाएं

लौंग का तेल और ऑलिव ऑयल को मिला लें

  • एक बड़ा चम्मच ऑलिव ऑयल में लौंग के तेल की चार या पांच बूँदें डालें|
  • इन्हें अच्छे से मिला लें|

2. रुई में थोड़ा-सा तेल लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाइए

तेलों के तैयार मिश्रण को उपयोग करें
लौंग का तेल दांतों के दर्द से जल्द आराम देता है
  • थोड़ी-सी रुई लेकर तैयार मिश्रण में डुबोइए|
  • इसे दर्द करने वाले दांत पर आधे घंटे तक या दर्द के कम होने तक लगाए रखिये|

आप पिसी हुई लौंग को दांतों पर भी लगा सकते हैं या एक साबुत लौंग को चबा भी सकते हैं|

Advertisements
नोट:  सिर्फ लौंग के तेल को दांतों पर नहीं लगाना चाहिए| इसे हमेशा किसी अन्य तेल के साथ मिलाकर ही लगाना चाहिए| अगर आपके मसूड़े सेंसिटिव हैं, तो सिर्फ लौंग का तेल लगाने से दांतों का दर्द बढ़ सकता है| इसे ऑलिव ऑयल या नारियल तेल के साथ मिलाकर लगाना उचित रहेगा|

विधि 4: हाइड्रोजन परॉक्साइड

हाइड्रोजन परॉक्साइड किसी घाव या चोट की सफाई के काम आता है| इसमें अतिरिक्त ऑक्सीजन पायी जाती है| यह ऑक्सीजन दांतों के भीतर और मुंह के सूक्ष्म जीवों को मारती है| जिससे दर्द, सूजन और इन्फेक्शन (संक्रमण) में आराम मिलता है|

हाइड्रोजन परॉक्साइड को रुई में लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाइए

रुई में हाइड्रोजन परॉक्साइड लेकर दर्द करने वाले दांतों पर लगाएं
हाइड्रोजन परॉक्साइड के इस्तेमाल से दांतों के दर्द से तुरंत आराम मिल जाता है
  • थोड़ी-सी रुई को 3% हाइड्रोजन परॉक्साइड में डुबोइए|
  • इस रुई को दर्द करने वाले दांत पर लगाइए|
  • इसे एक मिनट तक मुंह में रखे रखिये|
  • फिर इसे थूक दीजिये और गुनगुने पानी से कुल्ला कर लीजिये|
  • दर्द और असहजता कम करने के लिए इसे दिन में तीन बार इस्तेमाल कीजिये|

यदि आपके पास 35% हाइड्रोजन परॉक्साइड है, तो इसे 3% तक डाइल्यूट किया जा सकता है|

नोट: 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में इस उपचार का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि हाइड्रोजन परॉक्साइड उनके पेट में जा सकता है| इस हानिकारक रसायन से बच्चों में पेट की समस्याएं हो सकती हैं| 35% हाइड्रोजन परॉक्साइड को बच्चों की पहुँच से दूर रखें क्योंकि इससे वे जल सकते हैं|

विधि 5: वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट)

वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) में अल्कोहल पाया जाता है| इसी कारण यह दांत दर्द से छुटकारा पाने का एक अच्छा उपचार बन जाता है| अल्कोहल दांतों को सुन्न करके दर्द में आराम पहुंचाता है|

रुई में वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाइए

वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) को रुई में लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाएं
वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) दांत-दर्द का एक अच्छा उपचार है
  • थोड़ी-सी रुई को वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) में डुबोइए|
  • इस रुई को दर्द करने वाले दांत पर 10 मिनट तक रखे रहिये|
  • बेहतर परिणामों के लिए इसे दिन में तीन बार इस्तेमाल कीजिये|

आप उंगली में वैनिला अर्क (एक्सट्रैक्ट) लेकर दर्द करने वाले दांत और मसूड़ों पर भी रगड़ सकते हैं|

आप बादाम के अर्क (आलमंड एक्सट्रैक्ट) का भी इस्तेमाल कर सकते हैं| इसमें 37% अल्कोहल पाया जाता है| यह आपके मसूड़ों को जल्द-से-जल्द आराम पहुंचाता है|

विधि 6: बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं| यह मुंह के बैक्टीरिया को कम करने का काम करता है, जिससे सूजन और दर्द में आराम मिलता है|

1. रुई (कॉटन बड) को पानी में डुबोकर गीला कीजिये

पानी में रुई (कॉटन बड) को गीला कीजिये

  • रुई (कॉटन बड) लेकर इसे पानी में डुबोकर गीला कीजिये|
  • इसे पेपर टॉवल पर रखकर इसमें से अतिरिक्त पानी पोछ दीजिये|

2. इस रुई (कॉटन बड) में बेकिंग सोडा लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाइए

बेकिंग सोडा को रुई (कॉटन बड) में चिपका लीजिये
दांतों का दर्द खत्म करने के लिए बेकिंग सोडा का इस्तेमाल काफी आसान होता है
  • पानी में भीगी हुई रुई (कॉटन बड)  में बेकिंग सोडा लगाइए| यह ध्यान रखिये इस पर बेकिंग सोडा अच्छे से चिपक जाना चाहिए|
  • इस रुई (कॉटन बड) को दर्द करने वाले दांत और मसूड़ों पर दस मिनट तक लगाए रखिये|
  • इसे दिन में दो बार इस्तेमाल कीजिये|

अथवा आप एक गिलास (लगभग 250 मिली0) गुनगुने पानी में एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 ग्राम) बेकिंग सोडा मिलाकर इस पानी को थोड़ी देर के लिए मुंह में रखकर कुल्ला कीजिये|

विधि 7: सेब का सिरका

सेब के सिरके में सूजन कम करने का गुण पाया जाता है| यह एक एंटीबैक्टीरियल होता है, जो दांत दर्द के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के दर्द में आराम देता है|

सेब के सिरके में एसिटिक और मेलिक एसिड भी पाए जाते हैं जो दांत के संक्रमण को साफ़ करते हैं और गंदगी को भी हटाते हैं| यह आपके मुंह के pH स्तर को भी संतुलन में रखकर दर्द में आराम देता है|

सेब के सिरके को रुई में लेकर दर्द करने वाले दांत पर लगाइए

रुई में सेब का सिरका ले लीजिये
सेब के सिरके से दांतों के दर्द से निजात पाया जा सकता है
  • थोड़ी-सी रुई को सेब के सिरके में डुबोइए|
  • इसे सात से दस मिनट के लिए दर्द करने वाले दांत पर लगाए रखिये|
  • इस उपचार को दिन में तीन से चार बार इस्तेमाल कीजिये|
नोट: अगर आप सेब के सिरके के खट्टे और कसैले स्वाद को सहन नहीं कर पा रहे हैं, आप इसे इस्तेमाल करने से पहले इसमें पानी मिला लीजिये|

विधि 8: नमक के पानी से कुल्ला करना

दांत के दर्द से आराम पाने के लिए नमक के पानी से कुल्ला करना एक अन्य प्रभावी उपचार है| नमक; मुंह में बनने वाले लैक्टिक एसिड को बेअसर कर देता है, जिससे दांत दर्द में आराम मिलता है|

नमक का गर्म पानी भी मुंह के ऊतकों से अतिरिक्त तरल पदार्थ को बाहर निकाल देता है| इस प्रकार से सूजन, दर्द व असहजता में आराम मिलता है|

1. गर्म पानी में समुद्री नमक (सी साल्ट) मिलाइए

समुद्री नमक (सी साल्ट) को गर्म पानी में मिलाएं

Advertisements
  • एक जग में एक कप (लगभग 250 मिली0) पानी ले लीजिये|
  • इसमें एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम) समुद्री नमक (सी साल्ट) डालकर अच्छे से मिलाइए|

2. नमक के पानी से कुल्ला कीजिये

इस पानी को मुंह में भरकर कुल्ला कीजिये
नमक के पानी का इस्तेमाल दांतों का दर्द दूर करने का एक रामबाण इलाज है
  • नमक के तैयार पानी को मुंह में ले लीजिये और इससे एक मिनट तक कुल्ला कीजिये फिर थूक दीजिये|
  • जब तक आपको दांत दर्द में आराम नहीं मिल जाता, तब तक इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराते रहिये|

विधि 9: प्याज

प्याज एक एंटीसेप्टिक की भाति कार्य करता है तथा इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जिससे यह मुंह में इन्फेक्शन (संक्रमण) पैदा करने वाले जीवाणुओं को मार देता है| और इस प्रकार से दांत दर्द से निजात मिलता है|

प्याज को काटकर 10 मिनट तक चबाइए

10 मिनट तक प्याज के टुकड़े को चबाइए
दांतों के दर्द में प्याज का इस्तेमाल एक घरेलू नुस्खा है
  • एक प्याज को छीलकर काट लीजिये|
  • इसके एक टुकड़े को 10 मिनट तक चबाइए|
  • प्याज को चबाने से इसमें से तेल निकलता है, जो मुंह में मौजूद हानिकारक जीवाणुओं को खत्म कर देता है|
  • दांत के दर्द से तुरंत छुटकारा पाने के लिए इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराइए|

अगर आप प्याज को चबा नहीं सकते हैं, तो आप प्याज के टुकड़े को दर्द करने वाले दांतों के बीच दबा लीजिये|

विधि 10: बर्फ से सेंक लेना (आइस कम्प्रेस)

बर्फ; दांतों की नसों को सुन्न कर देती है, जिससे सूजन और दर्द में आराम मिलता है|

बर्फ को कपड़े में लपेटकर (आइस कम्प्रेस) मुंह के बाहर से दर्द करने वाले दांत पर लगाये रखिये

बर्फ को कपड़े में लपेटकर कम्प्रेस तैयार कीजिये
बर्फ के इस्तेमाल से दांतों के दर्द से तुरंत निजात मिलता है
  • एक साफ सूती कपड़ा ले लीजिये| इसमें बर्फ के कुछ टुकड़ों को रखिये|
  • ध्यान रखिये कि यह कपड़ा पतला होना चाहिए|
  • फिर कपड़े के किनारों को एक साथ पकड़कर बंडल (गठरी) बना लीजिये|
  • तैयार सेंक (आइस कम्प्रेस) को मुंह के बाहर से दर्द करने वाले दांत पर लगाये रखिये|
  • इसे पंद्रह मिनट तक त्वचा पर रगड़िए|
  • आप इसे दिन में दो से तीन बार पंद्रह-पंद्रह मिनट के लिए इस्तेमाल कीजिये|

सुझाव

  • दांतों के दर्द या दांतों की अन्य समस्याओं से बचने के लिए दांतों पर नियमित रूप से ब्रश कीजिये|
  • नमक के गुनगुने पानी से नियमित रूप से कुल्ला कीजिये|
  • दर्द करने वाले दांत पर किसी भी प्रकार की एंटीसेप्टिक क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें|
  • दर्द करने वाले दांत पर एस्पिरिन/डिस्पिरिन रखना भी दांत दर्द और मसूड़ों की सूजन कम करने का एक प्रभावी तरीका है|
  • अपने दांतों और मसूड़ों को मजबूत बनाने के लिए अपने भोजन में विटामिन-ई शामिल कीजिये|
  • दांत दर्द से तुरंत छुटकारा पाने के लिए एक्यूप्रेशर का इस्तेमाल कीजिये| हथेली के पीछे वाले भाग में अंगूठे और तर्जनी उंगली के मिलने के स्थान पर दो मिनट तक दबाव बनाइये| इससे एंडॉर्फिन हार्मोन (फील-गुड हार्मोन) बनने लगता है|
Advertisements