जब एक औरत माँ बन जाती हैं, तब उसकी जिम्मेदारियां तो बढ़ ही जाती हैं, लेकिन उसकी सबसे पहली जरूरत बच्चे की देखभाल हो जाती है| वह अपने बच्चे के लिए अच्छे-से-अच्छे उत्पाद खरीदना चाहती है| विज्ञापनों में उत्पादों के बारे में जितना बताया जाता है, उसमें से सब कुछ सच नहीं होता है|

बाजार में जो उत्पाद मिलते हैं, वे उत्पाद बच्चे की कोमल त्वचा के लिए अच्छे नहीं होते हैं| ये उत्पाद सिर्फ कमाई के उद्देश्य से बेचे जाते हैं| ये उत्पाद कोमल और सौम्य होने का दावा जरूर करते हैं, लेकिन ये पूरी तरह से सुरक्षित नहीं होते हैं और कभी-कभी इनमें रसायनों का भी उपयोग किया जाता है, जो आपके बच्चे की मुलायम त्वचा के लिए बहुत कठोर साबित होते हैं|

Advertisements

सबसे पहली बात, ये उत्पाद बच्चे के लिए पूरी तरह से उपयुक्त नहीं होते हैं| दूसरी बात, इन उत्पादों में अक्सर पैराबेस या फ्लेटलेट; जैसी कृत्रिम (बनावटी) सामग्री पायी जाती हैं, जो आगे चलकर कैंसर का कारण बनते हैं|

नवजात के लिए घर पर बनायें बेबी लोशन

इसलिए, अगर आप अपने प्यारे बच्चे को इन कठोर रसायनों और विक्रेताओं के झूठे वादों से बचाना चाहते हैं, तो आप कर ही क्या सकते हैं? इसका उत्तर बहुत ही आसान है : आप घर पर ही बेबी लोशन बना सकते हैं| आखिर आपसे बेहतर यह कौन जान सकता है कि आपके नवजात बच्चे के लिए सबसे अच्छा क्या है?

यदि आपको नहीं पता कि बेबी लोशन कैसे बनाना है, तो चिंता मत कीजिये| आपके बच्चे को भरपूर प्यार और सुरक्षा देने के लिए यहाँ दिए गए दो बेबी लोशन में सुरक्षित और प्राकृतिक सामग्रियों का उपयोग किया गया है| इन विधियों का प्रयोग करके नवजात के लिए घर पर बनायें बेबी लोशन|

Advertisements

विधि 1: बेबी लोशन

इस विधि में आपके बच्चे की कोमल त्वचा को पोषण और नमी प्रदान करने के लिए सौम्य और प्राकृतिक पदार्थों का इस्तेमाल किया गया है|

कोको मक्खन (कोको बटर), कोकोआ के पेड़ से निकाला गया अधिक वसा वाला मक्खन होता है| इस प्राकृतिक मॉइस्चराइजर में बहुत अधिक एंटीऑक्सीडेंट और वसीय अम्ल पाए जाते हैं, जो बच्चे की त्वचा को कोमल बनाये रखने का काम करते हैं|

इस घरेलू बेबी लोशन में शीया मक्खन (शीया बटर) भी मिलाया जाता है, जो शीया पेड़ के बीजों से निकाला जाता है| इस मक्खन में स्टिएरिक अम्ल पाया जाता है, जो बच्चे की त्वचा को बेहतर बनाता है तथा इसमें विटामिन-ए और ई भी अधिक मात्रा में पाया जाता है|

इस लोशन में शुद्ध जैतून तेल (ऑलिव ऑयल) और कोल्ड प्रेस्ड कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल) का उपयोग किया जाता है, जो आपके बच्चे की त्वचा को सुरक्षित और नम बनाये रखता है| इन चीज़ो का प्रयोग करके नवजात के लिए घर पर बनायें बेबी लोशन|

नोट: यह लोशन बनाने के लिए सिर्फ अनरिफाइंड, ग्रेड-ए का शीया बटर और कोल्ड प्रेस्ड, हैक्जेना-मुक्त कैस्टर ऑयल का ही इस्तेमाल कीजिये|

आवश्यक सामग्री:

विधि 1: आवश्यक सामग्री घर पर बेबी लोशन बनाने के लिए

Advertisements
  • कोको बटर (एंटीऑक्सीडेंट और वसीय अम्ल पाए जाते हैं) – दो छोटे चम्मच
  • शीया बटर (त्वचा को पोषण और नमी प्रदान करता है) – दो छोटे चम्मच
  • ऑलिव ऑयल (त्वचा को नमी और सुरक्षा प्रदान करता है) – एक छोटा चम्मच
  • कोल्ड प्रेस्ड कैस्टर ऑयल (त्वचा को पोषण और सुरक्षा प्रदान करता है) – आधा छोटा चम्मच
  • रोज़ ऑयल (सुगन्धित महक के लिए) – छह से सात बूँद

1. कोको बटर और शीया बटर को डबल बॉयलर में पिघला लें

1. कोकोआ बटर और शीया बटर को पिघला लें

  • एक डबल बॉयलर लीजिये|
  • कांच के कटोरे में दो छोटे चम्मच कोको बटर डालिए|
  • इसमें दो छोटे चम्मच शीया बटर मिलाइए|

2. ऑलिव और कैस्टर ऑयल मिलाइए

2. ऑलिव ऑयल और कैस्टर ऑयल को डबल बॉयलर में मिलाइए

  • कटोरे में एक छोटा चम्मच ऑलिव ऑयल डालिए|
  • अब आधा छोटा चम्मच कैस्टर ऑयल डालिए|
  • सभी सामग्रियों को मध्यम आंच पर रखकर आपस में मिलाइए|
  • पिघलने के बाद गैस बंद कर दीजिये और कटोरे को ठंडा होने के लिए अलग रख दीजिये|

3. रोज़ ऑयल मिलाकर इसे अच्छे से फेंटिए

3 रोज़ ऑयल मिलाकर और फेंटिए

  • मिश्रण के ठंडा हो जाने के बाद इसमें रोज़ ऑयल की छह से सात बूंदे मिलाइए|
  • जब मिश्रण ज़मने लगे तो इसे तेजी से फेंटिए|

4. एक बर्तन में भर लीजिये और कुछ घंटों के लिए रखा रहने दीजिये

4. एक बर्तन में भर लीजिये
घर के बने इस बेबी लोशन का इस्तेमाल करिये
  • इसे एक खाली बर्तन में भर लीजिये और तीन से चार घंटे के लिए रखा रहने दीजिये|

इस घरेलू बेबी लोशन से अपने नवजात बच्चे की मालिश कीजिये| इस लोशन में किसी भी कृत्रिम पदार्थ का इस्तेमाल नहीं किया गया है, इसलिए आप तीन महीने तक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं|

Advertisements

विधि 2: नारियल का बेबी लोशन

यह घरेलू बेबी लोशन न केवल आपके बच्चे की त्वचा को स्वस्थ और कोमल बनाएगा बल्कि इसके इस्तेमाल से त्वचा में नारियल की हल्की महक भी बनी रहेगी|

शुद्ध नारियल तेल में अत्यधिक पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो आपके बच्चे की त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होते हैं|

इस लोशन में बादाम के तेल का भी उपयोग किया जाता है, जो विशेष रूप से बच्चे की त्वचा के लिए काफी उपयुक्त होता है| इसमें विटामिन- ए, बी1, बी2, बी6, और ई भी पाए जाते हैं|

मधुमक्खियों के छत्ते से निकाली गयी मोम को मधुमोम या बीज़्वैक्स कहा जाता है| मधुमोम के साथ मिलकर यह लोशन त्वचा पर एक सुरक्षा कवच बना देता है| इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा को पोषण प्रदान करता है| बच्चे की त्वचा को रूखा होने से बचाने के लिए इस लोशन को सबसे अच्छा माना जाता है|

हमने इसमें लैवेंडर के तेल की भी कुछ बूंदों को मिलाया है| इसकी महक से मन शांत रहता है और बच्चे को हल्का महसूस होता है|

आवश्यक सामग्री:

Advertisements

विधि 2. घर पर बेबी लोशन बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • शुद्ध नारियल तेल (मध्यम श्रंखला के वसीय अम्ल पाए जाते हैं) – दो छोटे चम्मच
  • बादाम का तेल (त्वचा को पोषण प्रदान करता है और स्वस्थ बनाता है) – चार छोटे चम्मच
  • मधुमोम/ बीज़्वैक्स (त्वचा की रक्षा करता है) – दो छोटे चम्मच
  • विटामिन-ई तेल (त्वचा को पोषण प्रदान करता है) – एक कैप्सूल
  • लैवेंडर का तेल (राहत पहुंचाता है) – दो से तीन बूँद

1.मधुमोम, नारियल और बादाम के तेल को मिलाइये

1 मधुमक्खियों के मोम, नारियल और बादाम के तेल को डबल बॉयलर में डालें

  • एक डबल बॉयलर लीजिये|
  • कांच के एक कटोरे में दो छोटे चम्मच मधुमोम लीजिये|
  • इसमें दो छोटे चम्मच नारियल का शुद्ध तेल मिलाइए|
  • फिर चार छोटे चम्मच बादाम का तेल मिलाइए|
  • सभी सामग्रियों को मध्यम आंच पर पिघला लीजिये|
  • इसके बाद कटोरे को ठंडा होने के लिए रख दीजिये|

2. विटामिन-ई और बादाम का तेल डालिए

2 मिश्रण में विटामिन-ई और बादाम का तेल मिलाये

  • मिश्रण ठंडा होने के बाद इसमें विटामिन-ई की कैप्सूल तोड़कर डालिए|
  • फिर लैवेंडर के तेल की दो से तीन बूँदें मिलाइए|

3. इसे अच्छी तरह से फेंट लीजिये

3. मिश्रण को अच्छी तरह से फेंट लीजिये
नवजात बच्चों के लिए इस बेहतरीन बेबी लोशन का इस्तेमाल करिये
  • जब यह जमने लगे, तो इसे तब तक फेंटिए जब तक यह क्रीम जैसा न दिखने लगे|
  • फिर इसे एक खाली बर्तन में पलटकर जमने के लिए अलग रख दीजिये| आप इसे पूरी तरह से ज़माने के लिए फ्रिज में भी रख सकती हैं|

इस घरेलू बेबी लोशन को फ्रिज में रखने पर यह छह महीने तक ताजा बना रह सकता है|

सुझाव

  • डबल बॉयलर बनाने के लिए एक पैन में थोड़ा-सा पानी डालकर पाँच से छह छोटे पत्थर रख दीजिये| अब इसके ऊपर काँच का कटोरा रख लीजिये| अब आपका डबल बॉयलर तैयार है|
  • घर पर बेबी लोशन बनाते समय उपयोग किये जाने वाले पदार्थों की गुणवत्ता अवश्य जांच लें| पदार्थों पर लगे लेबल को ध्यानपूर्वक पढ़ें कि इसमें किसी रसायन का उपयोग तो नहीं किया गया है|
  • यदि अब भी आप बाजार के उत्पादों का उपयोग करना चाहती हैं, तो यह देख लें कि वे उत्पाद पैराबेन-फ्री हों|
Advertisements