मर्लिन मुनरो ने कहा है कि “आप एक लड़की को उसकी पसंद के जूते दीजिये और फिर वह दुनिया जीत लेगी|”

नए जूते किसी को भी नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, लेकिन अगर ये जूते हल्के-से भी कसे हुए हैं, तो इन्हें पहनने पर बहुत तकलीफ होती है| कसे हुए जूते पहनने से आपके पैरों में लगातार रगड़ लगती रहती है और उस जगह पर घाव बन जाता है| यह घाव काफी दर्दभरा होता है|

Advertisements

ये घाव न केवल आपके पैरों को नुकसान पहुंचाते हैं, बल्कि इनसे आपके लिए अधिक देर तक खड़े रहना और चलना  भी मुश्किल हो जाता है| जूते के काटने (शू बाइट ) पर कभी-कभी सूजन भी आ जाती है, दर्द होता है और काले निशान भी पड़ जाते हैं|

आसान तरीकों से पायें जूते के काटने से छुटकारा

हम जानते हैं कि मैनोलोस जूतों से दूर रहना नामुमकिन हो जाता है| लेकिन जब तक आपको जूतों के काटने से हुए घाव ठीक नहीं हो जाते, तब तक आप इन जूतों से दूर ही रहिये| आपको दुखी होने की जरूरत नहीं है| हम आपको कुछ सरल तरीके बताएँगे, जिनसे आप बिना अधिक पैसे खर्च किये अपने पसंदीदा जूते पहन पाएंगे|

अगर आपको शू बाइट के कारण दर्द हो रहा है, तो आप यहाँ बताये जा रहे तरीकों को अपनाकर घाव या निशान को ठीक कर सकते हैं|

Advertisements

शू बाइट से बचाव करने और इसे रोकने के लिए इन दस तरीकों को ध्यानपूर्वक देखिये|

Contents

शू बाइट से रोकथाम 

विधि 1: बैंड एड या डक्ट टेप

त्वचा को रगड़ लगने से बचाने के लिए बैंड एड या डक्ट टेप का इस्तेमाल सबसे सरल तरीका है| बैंड एड न केवल शू बाइट से हमें बचाता है, बल्कि यह त्वचा पर पहले से बने जूते के काटने के कट को ठीक करता है|

अगर आपको पहले से ही घाव या जख्म नहीं है , तब आप बैंड एड के स्थान पर डक्ट टेप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

बैंड एड या डक्ट टेप चिपकाइए

जूते के काटने से रोकथाम के लिए बैंड एड या डक्ट टेप का इस्तेमाल कीजिये
जूते पहनने से पहले बैंड एड या डक्ट टेप लगा लीजिये
  • अपने पैरों की एड़ियों पर जूतों के किनारों के स्थान पर बैंड एड या डक्ट टेप चिपकाइये|

विधि 2: दो जोड़ी मोज़े पहनना

शू बाइट से बचने के लिए आप दो जोड़ी मोज़े पहन सकते हैं| ऐसा करने से सर्दियों के मौसम में भी आराम मिलेगा|

दो जोड़ी मोज़े पहनिए

शू बाइट से बचने के लिए दो जोड़ी मोज़े पहनना एक सरल उपाय है
सर्दियों के मौसम में दो जोड़ी मोज़े पहनकर शू बाइट से बचा जा सकता है
  • दो जोड़ी मोज़े पहनकर जूते पहन लीजिये| इससे आपको शू बाइट नहीं होगा और जूता भी थोड़ा-सा बढ़ जाएगा|

विधि 3: गर्माहट (हीट)

आप अपने जूतों को हल्का-सा बड़ा करने के लिए गर्माहट (हीट) का इस्तेमाल कर सकते हैं, ताकि जूते से आपकी त्वचा में रगड़ न लगे| लेकिन यह विधि केवल चमड़े (लेदर) के जूतों या साबर (स्वैड) के जूतों  के लिए है| अन्य प्रकार के जूतों में गर्माहट देने पर ये खराब हो जाते हैं| और आपको यह बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगेगा कि आपके नए जूते खराब हो जाएँ|

आवश्यक सामग्री:

Advertisements

जूतों में ब्लो ड्राई करने के लिए आवश्यक सामग्री

  • ब्लो ड्रायर
  • मोटे कपड़े के मोज़े
  • कसे जूते

1. मोजों को पहन लीजिये

ब्लो ड्रायर का इस्तेमाल करने से पहले मोज़े पहन लीजिये

  • मोटे कपड़े के मोजों को पहन लीजिये| अगर आपके पास मोटे कपड़े के मोज़े नहीं हैं, तो आप दो या तीन जोड़ी सामान्य मोज़े पहन लीजिये|
  • अब इसके ऊपर जूते पहन लीजिये|

2. जूते के कसे वाले भाग में ब्लो ड्राई कीजिये

त्वचा से रगड़ने वाले जूते के किनारों पर ब्लो ड्रायर का इस्तेमाल कीजिये

  • जूते जिस-जिस जगह पर कसे हों, वहां-वहां कुछ सेकंड तक ब्लो ड्राई कीजिये| ऐसा करते समय अपने पैरों के अंगूठों को हिलाते-डुलाते रहिये और पैर को जूते में फिट करने की कोशिश कीजिये, ताकि जूते आपके पैरों के आकार के हो जाएँ|
  • अब ब्लो ड्रायर बंद कर दीजिये और जूते पहने रहिये|
  • जूतों को ठंडा होने के बाद इन्हें निकाल दीजिये|
  • अब मोज़े उतारकर जूते पहन कर जांच लीजिये कि ये आपक पैरों के आकार के हो गए हैं अथवा नहीं|

अब जूते आपके पैरों में आराम से आ जाने चाहिए| अगर आप इन्हें और भी ढीला करना चाहते हैं, तो यही प्रक्रिया फिर से दोहराइए|

Advertisements
सिर्फ जूते पहनकर फिटिंग की जांच कीजिये
ब्लो ड्रायर का इस्तेमाल करने के बाद जूते आपको फिट आ जायेंगे

विधि 4: मोमबत्ती

जूते के कठोर किनारों पर मोमबत्ती लगाकर आप शू बाइट से बच सकते हैं| मोमबत्ती को हल्के हाथों से लगाइए क्योंकि यह जल्दी सूख जाती है और आपको फिर से शू बाइट हो सकता है|

मोमबत्ती को जूतों के कठोर किनारों पर रगड़िए

एक छोटी और साफ मोमबत्ती को जूतों के पीछे के ऊपरी किनारों पर रागड़िए
मोमबत्ती के इस्तेमाल से जूते; त्वचा को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे
  • एक साफ़ मोमबत्ती लीजिये|
  • जूते के जिस किनारे से आपके पैरों में असहजता होती है, वहां पर इसे रगड़िए|
  • जब कभी भी जूतों से असहजता हो, तो ऐसा ही कर लीजिये|

इसे कुछ दिनों तक लगातार करते रहिये, ताकि जूते के किनारे हल्के-से फ़ैल जाएँ और आपको शू बाइट न हो|

विधि 5: फ्रीजिंग

एक बैग में पानी भरजार जूते के अंदर रखकर इसे ज़माने से भी जूते की फिटिंग बढ़ जाती है| इससे आप जूतों को बहुत कम समय में अपने पैरों के आकार का बना सकते हैं| पानी को जमाने पर यह फैलता है, जिससे जूते भी स्ट्रेच हो जायेंगे|

आवश्यक सामग्री:

फ्रीजिंग तरीके के लिए आवश्यक सामग्री

  • बड़े ज़िपलॉक बैग
  • पानी
  • कसे जूते

1. ज़िपलॉक बैग में पानी भर लीजिये

ज़िपलॉक बैग को पानी से भरकर बंद कर दीजिये

Advertisements
  • दो बड़े ज़िपलॉक बैग में पानी भर लीजिये| अगर आप पूरे जूते को किनारों से थोड़ा-सा फैलाना चाहते हैं, तो एक जूते के लिए दो बड़े ज़िपलॉक बैग तैयार कर लें|
  • बैग को सील कर दें|

2. पानी से भरे बैग को जूतों के अंदर रखकर जमने के लिए रख दीजिये

ज़िपलॉक बैग को जूतों में रखकर जमने के लिए फ्रीजर में रखें

  • पानी से भरे बैग को जूतों के अंदर रखिये|
  • अब पानी जमने के लिए जूतों को चार से आठ घंटों तक फ्रीज़र में रख दें|

3. जमे हुए बैग को हटा दें और जूते की फिटिंग की जांच करें

जूतों को फ्रीजर से निकाल लें
जूतों की फिटिंग की जाँच कीजिये
  • जब पानी जम जाये, तो जमे हुए बैग को जूतों में से हटा दें और पहन कर फिटिंग की जांच करें|
  • अगर आवश्यक हो तो जूतों को थोड़ा-और फ़ैलाने के लिए फिर से यही प्रक्रिया दोहराइए|

शू बाइट के उपचार

विधि 6: पाउडर

अधिकांश बार ऐसा होता है कि आपके पैरों में अधिक पसीना आने के कारण शू बाइट हो जाते हैं| धीरे-धीरे ये शू बाईट; घाव का रूप ले लेते हैं| पाउडर आपक पैरों को न केवल सूखा बनाये रखेगा, बल्कि घाव की हजलन और खुजली को भी कम करेगा|

पैरों पर पाउडर छिड़किये

शू बाइट ठीक करने के लिए पाउडर का इस्तेमाल कीजिये
पाउडर के उपयोग से आप शू बाइट को जल्दी से ठीक कर सकते हैं
  • आपको पैरों में जिस जगह पर शू बाइट हुआ है, वहां पर पाउडर छिड़किये|
  • आप शू बाइट के कारण हुए घाव पर भी पाउडर छिड़क सकते हैं, ताकि जूते की रगड़ लगने पर दर्द न हो|

जूते के काटने से पड़े घाव से छुटकारा पाने के लिए आप दिन में कई बार एडियों के ऊपरी भाग पर पाउडर छिड़किये, ताकि आपके पैर सूखे बने रहें|

विधि 7: वैसलीन

रात में सोने से अपने पैरों पर शू बाइट के कारण हुए घाव पर वैसलीन लगाइए, ताकि घाव को ठीक होने के लिये ज्यादा समय मिल सके| वैसलीन आपकी चोट पर एक सुरक्षा कवच बनाकर पोषण प्रदान करती है, जिससे कुछ ही घंटों में दर्द से आराम मिल जाता है|

शू बाइट पर वैसलीन लगाइए

वैसलीन लगाकर शू बाइट को ठीक कीजिये
शू बाइट ठीक करने के लिए रात के समय वैसलीन का इस्तेमाल करें
  • सोने से पहले अपने पैरों के शू बाइट पर प्राप्त वैसलीन लगाइए|
  • इसे पूरी रात अपने पैरों में लगा रहने दीजिये| वैसलीन बिस्तर पर न लगे, इसलिए आप मोज़े भी पहन सकते हैं|

अगर यह एक रात में ठीक नहीं होता है, तो अपने त्वचा को पूरी तरह से ठीक करने के लिए दो से तीन दिनों तक इसका इस्तेमाल करें|

विधि 8: नारियल तेल

जूते के काटने पर पड़े घाव से छुटकारा पाने के लिए आप नारियल तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं| यह त्वचा को नमी और पोषण प्रदान करता है, जिससे त्वचा जल्दी ठीक हो जाती है| यह एंटीबैक्टीरियल का भी काम करता है और घाव में इन्फेक्शन (संक्रमण) होने से बचाता है|

नारियल तेल आपकी रूखी त्वचा में जूते की रगड़ लगने से होने वाले शू बाइट्स से बचाता है|

शू बाइट पर नारियल तेल लगाइए

नारियल तेल त्वचा पर एंटी बैक्टीरियल का काम करता है
नारियल तेल के इस्तेमाल से शू बाइट को जल्दी से ठीक किया जा सकता है
  • शू बाइट वाली त्वचा पर नारियल तेल लगाकर मालिश कीजिये, ताकि आपकी त्वचा इसे अच्छे से ग्रहण कर ले|

जूते के काटने पर पड़े घाव से छुटकारा पाने के लिए इसे लगातार तीन से चार दिनों तक दिन में दो बार इस्तेमाल कीजिये|

विधि 9: हल्दी और नीम

त्वचा को ठीक करने के लिये  हल्दी और नीम सदियों पुराने उपचार हैं| दोनों में ही एंटीबैक्टीरियल और सूजन कम करने के गुण पाए जाते हैं, जो न केवल घाव को ठीक करते हैं, बल्कि भविष्य में होनेवाले इन्फेक्शन से भी बचाते हैं| शू बाइट को जल्दी से ठीक करने के लिए नेम और हल्दी पाउडर का पेस्ट बनाकर इस्तेमाल करें|

आवश्यक सामग्री:

शू बाइट ठीक करने के लिए आवश्यक सामग्री

  • हल्दी पाउडर (सूजन खत्म करता है) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 ग्राम)
  • नीम का पेस्ट (एंटीबैक्टीरियल) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 ग्राम)

1. हल्दी और नीम का पेस्ट बना लें

नीम और हल्दी को मिलाकर पेस्ट बना लें

  • एक कटोरे में एक बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर ले लीजिये|
  •  इसमें एक बड़ा चम्मच नीम का पेस्ट मिलाएं|
  • दोनों पदार्थों को अच्छी  तरह से मिला लें| अगर आवश्यक हो तो इसमें कुछ बूँद पानी भी मिला सकते हैं|

2. तैयार पेस्ट को शू बाइट पर लगाइए

नीम और हल्दी के पेस्ट को जूते के काटने पर लगाएं
हल्दी और नीम के पेस्ट के इस्तेमाल से शू बाइट जल्द ही ठीक हो जायेगा
  • तैयार पेस्ट को शू बाइट के कारण हुए घाव पर लगाइये|
  • इसे बीस मिनट तक लगा रहने दीजिये और फिर गुनगुने पानी से धो लीजिये|
  • इसे हटाने के बाद आप त्वचा में नारियय तेल लगा सकते हैं|

जूते के काटने पर पड़ घाव से छुटकारा पाने के लिए इसे लगातार तीन से चार दिनों तक दिन में दो बार इस्तेमाल कीजिये|

Advertisements

विधि 10: एलोवेरा

एलोवेरा एक प्राकृतिक पदार्थ होता है, जो जूते के काटने से निजात दिलाने में सहायक होता है| इसे एलोवेरा के पत्तों से निकला जाता है| यह शू बाइट का दर्द, जलन को कम करके त्वचा को ठंडक प्रदान करता है| यह त्वचा में नमी बनाये रखता है| यदि आपकी त्वचा रूखी है, तो आप एलोवेरा और मलाई का फेस पैक भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

शू बाइट पर एलोवेरा जेल लगाइए

एलोवेरा जेल त्वचा को पोषण प्रदान करता है
एलोवेरा जेल न केवल शू बाइट को ठीक करता है, बल्कि इसके दाग को भी खत्म कर देता है

जूते के काटने पर पड़े घाव से छुटकारा पाने के लिए दिन में कई बार एलोवेरा जेल का इस्तेमाल कीजिये|

सुझाव

  • यह कहने की बात नहीं है कि जूतों को खरीदने से पहले पहन कर जरूर देखें| किसी चीज की रोकथाम इलाज से ज्यादा बेहतर होती है|
  • अगर किसी भी उपचार के इस्तेमाल से आपको जूते के काटने से छुटकारा नहीं मिलता है, तो जूतों को उसी दुकान में जाइये, जहाँ से आपने इसे खरीदा है| कई दुकानदार जूते बदलकर दे देते हैं|
  • आप अपने पहले वाले आकार से थोड़े-बड़े आकार के जूते पहनकर देखें|
  • किसी भी प्रकार के संक्रमण या घाव से बचने के लिए अपने पैरों की नियमित रूप से सफाई करें|
Advertisements