स्ट्रेच मार्क्स छिपाने के लिए आप क्या-क्या नहीं करते? पूरे शरीर को ढकने वाले कपड़े पहनने से लेकर स्ट्रेच मार्क्स पर मेकअप लगाने तक आप कई तरीके अपना चुके होते हैं|

अधिकांश महिलाओं में गर्भावस्था के बाद दिखने वाले स्ट्रेच मार्क्स की स्थिति काफी खराब हो जाती है| उन्हें लगता है कि स्ट्रेच मार्क्स से उनका आकर्षण खत्म हो गया है और ये स्ट्रेच मार्क्स उनके शरीर पर हमेशा के लिए बन गए हैं|

Advertisements

आम तौर पर गर्भावस्था के बाद शरीर पर स्ट्रेच मार्क्स बन जाते हैं| स्ट्रेच मार्क्स का संबंध स्ट्रे से है| गर्भावस्था के बाद बने स्ट्रेच मार्क्स को डॉक्टर की भाषा में स्ट्रियाए ग्राविदरूम कहा जाता है|

स्ट्रेच मार्क्स को आसानी से हटाइये

स्ट्रेच मार्क्स बनने के कारण

अधिक तेजी से वजन बढ़ने या घटने से स्ट्रेच मार्क्स बन जाते हैं; जैसे किशोरावस्था में शरीर का अचानक से बढ़ना या गर्भावस्था में वजन बढ़ना आदि|

महिलाओं में यौवनारम्भ, गर्भावस्था या मासिक धर्म बंद होने के समय भी शरीर में परिवर्तन आते हैं| हार्मोन के असंतुलन के चलते त्वचा का लचीलापन कम हो जाता है तथा यह रूखी और बेजान हो जाती है|

Advertisements

कोलेजन आपकी त्वचा को लचीलापन प्रदान करता है, इसकी कमी के चलते शरीर पर स्ट्रेच मार्क्स बनने लगते हैं|

स्ट्रेच मार्क्स के लक्षण 

स्ट्रेच मार्क्स त्वचा पर सामानांतर दिखने वाली रेखाएं होती हैं, जो त्वचा के प्राकृतिक रंग से हल्के रंग की होती हैं| ये रेखाएं लाल या गुलाबी रंग की हो सकती हैं और धीरे-धीरे हल्के सफ़ेद रंग की हो जाती हैं|

जांघों, कूल्हों, छाती, ऊपरी भुजाओं और हाथों के बगलों पर अधिक वसा जमा हो जाने से इन भागों पर स्ट्रेच मार्क्स जल्दी बन जाते हैं| आमतौर पर इन स्ट्रेच मार्क्स में कोई खुजली नहीं होती है, लेकिन गर्भावस्था के बाद बनने वाले स्ट्रेच मार्क्स में कभी-कभी दर्द और खुजली भी होने लगती है|

स्ट्रेच मार्क्स की रोकथाम कैसे करें

स्ट्रेच मार्क्स को रोकने के लिए बाजार में कई तरह की क्रीम और लोशन मौजूद हैं, लेकिन गर्भावस्था के बाद बनने वाले स्ट्रेच मार्क्स से बचा नहीं जा सकता है| आप शरीर में पानी की पूर्ति करके और स्वास्थ्यवर्धक भोजन का सेवन करके स्ट्रेच मार्क्स को कम कर सकते हैं| आपको ऐसे भोजन का सेवन करना चाहिए जो आपकी त्वचा को स्वस्थ बनाये और इसे लचीलापन प्रदान करे|

स्ट्रेच मार्क्स से शरीर को कोई हानि नहीं होती है तथा ये समय के साथ धीरे-धीरे खत्म होते जाते हैं| लेकिन आप इन स्ट्रेच मार्क्स से जल्द-से-जल्द छुटकारा पाना चाहते हैं| यह ध्यान रखिये कि स्ट्रेच मार्क्स कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं किये जा सकते हैं, लेकिन इनके रंग को त्वचा के रंग के समान किया जा सकता है|

अगर आप बाजार में मिलने वाली रसायनयुक्त क्रीम या लोशन का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं, तो आप स्ट्रेच मार्क्स के लिए कुछ घरेलू उपचारों का इस्तेमाल कर सकते हैं| घरेलू नुस्खों के कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं|

Advertisements

यहाँ स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय बताये जा रहे हैं, जिनके इस्तेमाल से आप आसानी से स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पा सकते हैं|

स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा कैसे पायें

विधि 1: कैस्टर ऑयल

स्ट्रेच मार्क्स के उपचार के लिए कैस्टर ऑयल एक सर्वश्रेष्ठ प्राकृतिक उपाय है| इसका कड़वा स्वाद और लैक्सेटिव गुण त्वचा के लिए काफी अच्छे माने जाते हैं| यह स्ट्रेच मार्क्स हटाने का उपाय बहुत सरल होता है|

80-90% कैस्टर ऑयल में राइसिनोलिक अम्ल पाया जाता है| यह एक प्रकार का वसीय अम्ल होता है, जो कैस्टर ऑयल को त्वचा के उपयुक्त बनाता है| यह वसीय अम्ल त्वचा को नमी प्रदान करता है और त्वचा की कोशिकाओं की मरम्मत करता है| साथ ही यह त्वचा पर मुंहासों के दाग-धब्बों को भी कम करता है और बढ़ती उम्र के लक्षणों को नियंत्रित करता है|

स्ट्रेच मार्क्स पर कैस्टर ऑयल लगाइए

कैस्टर ऑयल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाइए
स्ट्रेच मार्क्स के लिए कैस्टर ऑयल एक रामबाण इलाज है
  • रुई की सहायता से कैस्टर ऑयल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाइए|
  • इस तेल से स्ट्रेच मार्क्स वाली त्वचा पर दस मिनट तक मालिश कीजिये| कैस्टर ऑयल काफी चिपचिपा होता है| मालिश करने से त्वचा इस तेल को आसानी से ग्रहण कर लेगी|

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए कैस्टर ऑयल को अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिये| स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय को अपनाइए|

Advertisements

विधि 2: विटामिन-ई तेल

त्वचा के विकारों के लिए विटामिन-ई तेल काफी लोकप्रिय है| यह त्वचा को मजबूत बनाता है और पोषण प्रदान करके लचीलापन बढ़ाता है| यही कारण है कि स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए विटामिन-ई तेल का इस्तेमाल किया जाता है|

स्ट्रेच मार्क्स के आरम्भ होते ही विटामिन-ई तेल लगाने से स्ट्रेच मार्क्स का विकास रुक जाता है और धीरे-धीरे ये खत्म हो जाते हैं| गर्भवती महिला को स्ट्रेच मार्क्स से बचने के लिए अपने भोजन में 15 मिलीग्राम विटामिन-ई तेल शामिल करना चाहिए|

स्ट्रेच मार्क्स पर विटामिन-ई तेल लगाइए

विटामिन-ई तेल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाइए
स्ट्रेच मार्क्स के लिए विटामिन-ई तेल काफी प्रभावी होता है
  • रुई की सहायता से विटामिन-ई तेल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाइए|
  • फिर हल्के हाथों से दस मिनट तक मालिश कीजिये|

स्ट्रेच मार्क्स खत्म होने तक दिन में एक बार विटामिन-ई तेल से मालिश करते रहिये| गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दौरान और बाद में स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए विटामिन-ई तेल से मालिश करनी चाहिए|

विधि 3: शुद्ध नारियल तेल

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए शुद्ध नारियल तेल काफी उपयोगी होता है और साथ ही स्वास्थ्य और सुन्दरता के लिए भी नारियल तेल काफी फायदेमंद होता है| स्ट्रेच मार्क्स के इलाज के लिए आप शुद्ध नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं|

शुद्ध नारियल तेल काफी हल्का होता है| इसलिए त्वचा इसे आसानी से ग्रहण कर लेती है| यह त्वचा को नमी प्रदान करके धीरे-धीरे स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करता जाता है|यह स्ट्रेच मार्क्स हटाने का उपाय है|

स्ट्रेच मार्क्स पर नारियल तेल से मालिश कीजिये

नारियल तेल से स्ट्रेच मार्क्स पर मालिश कीजिये
एक्स्ट्रा वर्जिन नारियल तेल; स्ट्रेच मार्क्स के लिए सबसे अच्छा उपचार है

सर्दियों के मौसम में नारियल तेल जम जाता है, लेकिन जब आप नारियल तेल को हथेलियों के बीच रगड़ते हैं, तो यह पिघलने लगता है| स्ट्रेच मार्क्स पर नारियल तेल के इस्तेमाल से पहले आप इसे माइक्रोवेव या डबल बॉयलर में गर्म कर सकते हैं|

Advertisements
नोट: आपको त्वचा पर नारियल तेल के इस्तेमाल के लिए एक्स्ट्रा वर्जिन नारियल तेल का ही उपयोग करना चाहिए|
  • हथेली पर थोड़ा-सा नारियल तेल लेकर इसे दोनों हथेलियों के बीच रगड़िए, जिससे यह पूरी तरह से पिघल जाए|
  • अब इस तेल से स्ट्रेच मार्क्स पर दस मिनट तक मालिश कीजिये|

नारियल तेल त्वचा के लिए काफी सुरक्षित होता है| इसलिए स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय को आप दिन में दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं|

विधि 4: कोको बटर

कोको बटर भी एक उत्तम पदार्थ होता है, जो शरीर पर बने स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने में सहायक है| स्ट्रेच मार्क्स हटाने वाली क्रीम्स और लोशन में कोको बटर का इस्तेमाल किया जाता है|

यह त्वचा को नमी प्रदान करता है और त्वचा की कोशिकाओं की मरमत करता है, जो स्ट्रेच मार्क्स हटाने में सहायक है| आप घरेलू बॉडी बटर या लोशन बनाने के लिए कोको बटर का इस्तेमाल कर सकते हैं|

स्ट्रेच मार्क्स पर कोको बटर से मालिश कीजिये

कोको बटर से स्ट्रेच मार्क्स पर मालिश कीजिये
स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पाने के लिए कोको बटर का इस्तेमाल कीजिये
  • थोड़ा-सा कोको बटर लेकर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाइए|
  • कोको बटर से दस से पंद्रह मिनट तक मालिश कीजिये|

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए दिन में दो बार कोको बटर से मालिश कीजिये| कोको बटर के कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं| एक से दो महीने तक कोको बटर के निरंतर इस्तेमाल से स्ट्रेच मार्क्स को त्वचा के प्राकृतिक रंग में लाया जा सकता है|

सुझाव

  • स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए जितना जल्दी हो सके, उतना जल्दी इन घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करना आरम्भ कीजिये| स्ट्रेच मार्क्स जितने अधिक पुराने होते जायेंगे, ये त्वचा में अधिक गहराई तक बन जायेंगे|
  • स्ट्रेच मार्क्स को नाखूनों से खुरचने की कोशिश न करें या अनावश्यक रूप से इन्हें न छुएं| नाखूनों से खुरचने से स्ट्रेच मार्क्स से खून आ सकता है, जिससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है|
  • ऊपर बताये गए स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय काफी कारगर साबित होते हैं|
  • हमेशा 80-90% कैस्टर ऑयल का ही इस्तेमाल करना चाहिए| कैस्टर ऑयल का रंग जितना हल्का होगा, यह त्वचा पर उतना ही अच्छा प्रभाव छोड़ेगा|
  • गर्भवती महिला को कैस्टर ऑयल का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे प्रसव पीड़ा हो सकती है| गर्भवती महिला को कैस्टर ऑयल का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लेनी चाहिए|
  • त्वचा पर किसी भी तेल से मालिश करने के कुछ घंटों बाद तक त्वचा को धोना नहीं चाहिये अन्यथा तेल भी धुल जाएगा| बेहतर परिणामों के लिए रात में सोने से पहले इन उपचारों का इस्तेमाल करना चाहिए|
  • त्वचा; तेलों को अच्छी तरह से ग्रहण करे, इसके लिए आप तेलों को गर्म करके इस्तेमाल कीजिये|
  • स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए जैतून का तेल (ऑलिव ऑयल), एवोकाडो का तेल और शीया बटर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है|
Advertisements