क्या आप जानते हैं कि अधिकांश लोग लगातार बने रहने वाले कब्ज से परेशान हैं? सुनने में कब्ज कोई गंभीर बीमारी नहीं लगती है, लेकिन जो लोग इससे पीड़ित हैं सिर्फ वे ही जान सकते हैं कि कब्ज से शरीर कितना कमजोर हो जाता है|

नयी-नयी दवाओं को आजमाने से बेहतर है कि आप प्राकृतिक घरेलू उपचारों को अपनाएँ, जिससे आपके पाचन तंत्र में सुधार आ सके क्योंकि प्राकृतिक उपचार आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाते हैं|

Advertisements

एक सुस्त जीवनशैली, खान-पान की खराब आदतें, शरीर में पानी की कमी तथा कैफीनयुक्त पदार्थों व अल्कोहल का बहुत अधिक सेवन करने से आपको मलत्याग करने में असुविधा होती है और धीरे-धीरे यह कब्ज का कारण बनता जाता है|

पेट के इलाज के लिए कई सालों से कैस्टर ऑयल का उपयोग किया जाता रहा है| कैस्टर ऑयल में पाया जाने वाला राइसिनोलिक एसिड आँतों को आराम पहुंचाकर कब्ज से निजात दिलाता है, जिससे मलत्याग आसानी से हो जाता है| इस गाढ़े तेल को पेट की आँतें आसानी से ग्रहण कर लेती हैं|

कैस्टर ऑयल के द्वारा कब्ज का इलाज करें

कब्ज के लिए आप कई तरह से कैस्टर ऑयल का उपयोग कर सकते हैं| को इसका स्वाद कड़वा लगता है, तो आप इसे किसी जूस के साथ मिलाकर भी ले सकते हैं|

Advertisements

यदि आप कब्ज से परेशान चल रहे हैं तथा अन्य घरेलू उपचार या दवाओं से राहत नहीं मिल रही है, तो आप यहाँ बताये गए तरीकों से एक बार कैस्टर ऑयल का उपयोग करें| शत प्रतिशत कार्बनिक, कोल्ड प्रेस्ड, हेक्जेन-मुक्त कैस्टर ऑयल का ही उपयोग करें क्योंकि इसमें पोषक तत्वों की मात्रा सबसे अधिक पाई जाती है|

कब्ज का इलाज करें कैस्टर ऑयल के द्वारा|

यहाँ हम आपको इसके उपयोग के बारे में बता रहे हैं|

सावधानी: यदि सात दिनों तक उपयोग के बाद भी आपको कैस्टर ऑयल से कोई लाभ नहीं मिल रहा है, तो इसका उपयोग करना बंद कर दें और तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें| संभवतः आप किसी अन्य बीमारी से पीड़ित हैं, जो आपके डॉक्टर बेहतर तरीके से बता सकते हैं|

यदि निम्न में से कोई भी लक्षण आपमें दिखाई देता है, तो आप कैस्टर ऑयल का उपयोग न करें :

  • मासिक धर्म, गर्भावस्था या स्तनपान
  • पित्ताशय रोग से पीड़ित
  • जी मिचलाना या उल्टी आना
  • पेट में अत्यधिक दर्द या मलाशय से रक्त आना
  • मूत्रवर्धक दवाओं का सेवन
  • अवरुद्ध आंतों से परेशान

विधि 1: कैस्टर ऑयल का सेवन

कब्ज होने पर सुबह खाली पेट कैस्टर ऑयल के सेवन से बेहतर कुछ भी नहीं है| खाली पेट इस तेल के सेवन से आपको कब्ज से जल्द ही आराम मिल जाएगा| यह तेल आपकी आँतों और मलत्याग को सामान्य करने के लिए औसतन दो से छह घंटे का समय लेता है|

सुबह खाली पेट कैस्टर ऑयल का सेवन कीजिये

विधि 1-कैस्टर ऑयल का सेवन सुबह खाली पेट कीजिये
कब्ज दूर करने का घरेलू उपाय है, कैस्टर ऑयल

कैस्टर ऑयल के सेवन के लिए कुछ सामान्य निर्देश इस प्रकार से हैं :

Advertisements
  • वयस्क और 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों के लिए – 15 से 60 मिली0
  • दो से ग्यारह साल तक के बच्चों के लिए – 5 से 15 मिली0
  • दो साल से कम उम्र के बच्चों के लिए – 1 से 5 मिली0

कब्ज का इलाज करें कैस्टर ऑयल की एक खुराक से ही आपको आराम मिलने लगेगा| लेकिन पुरानी कब्ज से छुटकारा पाने के लिए आपको तीन से चार दिनों (अथवा अधिकतम 7 दिनों) तक लगातार खाली पेट इसका सेवन करना होगा|

विधि 2: जूस (फल का रस) के साथ कैस्टर ऑयल का सेवन

चूंकि, कैस्टर ऑयल का स्वाद आपको अच्छा नहीं लगेगा, इसलिए आप जूस (फल के रस) के साथ मिलाकर इसका सेवन करें| जूस (फल के रस) के साथ मिलाकर कैस्टर ऑयल लैक्सेटिव की तरह काम करेगा, जबकि जूस(फल का रस) मलत्याग के मार्ग में नमी बनाये रखेगा| आप इस उपचार के लिए संतरे, क्रैनबेरी, आलूबुखारा या अदरक के जूस (रस) का उपयोग कर सकते हैं|

आवश्यक सामग्री:

विधि 2- आवश्यक सामग्री- जूस और कैस्टर ऑयल के सेवन के लिए

Advertisements
  • कैस्टर ऑयल (लैक्सेटिव) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0)
  • संतरे का रस (अत्यधिक फाइबर) – एक कप (लगभग 250 मिली0)

संतरे के जूस (रस) में कैस्टर ऑयल मिलाइये और सुबह-सुबह इसका सेवन कीजिये

जूस में मिलके कैस्टर ऑयल सेवन कीजिये
जूस और कैस्टर ऑयल द्वारा कब्ज का इलाज कीजिये
  • एक कप संतरे के ताजे जूस (रस) में एक बड़ा चम्मच कैस्टर ऑयल मिलाइए|
  • इन्हें ब्लेंडर की सहायता से अच्छी तरह से मिला लीजिये|
  • और तुरंत ही इसका सेवन कीजिये|

कब्ज का इलाज करें कैस्टर ऑयल के द्वारा, इसका तीन से चार दिनों तक खाली पेट इसका सेवन कीजिये|

विधि 3: दूध के साथ कैस्टर ऑयल का सेवन

कब्ज का इलाज करें कैस्टर ऑयल के द्वारा,  इसको कम वसा वाले दूध के साथ मिलाकर इसका सेवन करें| दूध में पाया जाने वाला लैक्टिक अम्ल पाचन तंत्र को ठीक करता है| इसे रात में सोते समय पीना बेहतर रहता है क्योंकि दूध पीने से अच्छी नींद आती है|

सावधानी: यदि आपके लिए लैक्टोज उपयुक्त नहीं है, तो दूध के सेवन से आपकी तबियत और भी बिगड़ सकती है| आप दूध के स्थान पर सोयाबीन के दूध (सोया दूध) का इस्तेमाल कर सकते हैं|

आवश्यक सामग्री:

विधि 3-आवश्यक सामग्री-दूध और कैस्टर ऑयल के सेवन के लिए

  • कैस्टर ऑयल (लैक्सेटिव) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0)
  • कम वसा वाला दूध (पाचन तंत्र को ठीक करता है) – एक कप (लगभग 250 मिली0)

दूध में कैस्टर ऑयल मिलाकर सोने से पहले इसका सेवन कीजिये

दूध में मिलके कैस्टर ऑयल सेवन कीजिये
कब्ज से राहत के लिए कैस्टर ऑयल और दूध का सेवन कीजिये
  • एक कप कम वसा वाले गर्म दूध में एक छोटा चम्मच कैस्टर ऑयल मिलाइए|
  • हैण्ड ब्लेंडर की सहायता से अच्छे से मिला लीजिये|
  • सोने से पहले इसका सेवन कीजिये|

इसके एक बार के सेवन से ही आपको फर्क महसूस होगा| अगली सुबह आप सामान्य तरीके से मलत्याग कर सकेंगे| पुरानी कब्ज के लिए लगातार चार से छह दिनों तक इसका सेवन कीजिये|

विधि 4: कैस्टर ऑयल पैक

जो लोग कैस्टर ऑयल की तेज गंध और कड़वे स्वाद को सहन नहीं कर सकते हैं, तो वे लोग कब्ज से छुटकारा पाने के लिए कैस्टर ऑयल पैक का इस्तेमाल करें| यह एक गाढ़ा तेल होता है, इसलिए त्वचा इसे जल्द ही ग्रहण कर लेती है| इसके उपयोग से आपके पाचन में अधिक तेजी से सुधार देखा जा सकता है| यह पेट की गंदगी को साफ़ करता है और कब्ज से राहत देता है|

Advertisements

2011 में कॉम्प्लीमेंट्री थेरेपी इन क्लिनिकल प्रैक्टिस में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, पुरानी कब्ज से निजात पाने के लिए कैस्टर ऑयल पैक का इस्तेमाल इसके लक्षणों से राहत देने में सहायक होता है|

सावधानी: कैस्टर ऑयल का उपयोग करने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपको कोई अन्य बीमारी तो नहीं है या आप गर्भवती तो नही हैं|

लगातार तीन दिनों तक कैस्टर ऑयल पैक को पेट पर लगाइए

कैस्टर ऑयल पैक का इस्तेमाल कीजिये
कब्ज से राहत पाने के लिए कैस्टर ऑयल पैक का इस्तेमाल कीजिये
  • एक कटोरे में एक कप (लगभग 250 मिली0) कैस्टर ऑयल लीजिये|
  • एक साफ़ कपड़ा या तौलिया लेकर उसमें दोहरी तह लगा लीजिये और इसे 30 मिनट या पूरी तरह से गीला होने के लिए कैस्टर ऑयल में भीगने दीजिये|
  • अपने बिस्तर पर एक पुराना चादर या तौलिया बिछाइये, ताकि बिस्तर पर तेल के दाग न लगें|
  • अब पीठ के बल लेट जाइए और कैस्टर ऑयल में भीगे हुए कपड़े की तह खोलकर पेट पर रख लीजिये|
  • कपड़े के ऊपर एक प्लास्टिक शीट रखकर हॉट बैग से सेंकिए|
  • अब एक से डेढ़ घंटे तक आराम कीजिये, ताकि आपकी त्वचा इस तेल को ग्रहण कर सके|
  • अब कपड़े को हटा दीजिये और इसे अगली बार इस्तेमाल के लिए संभालकर रख दीजिये|
  • दूसरी तौलिया से त्वचा के अतिरिक्त तेल को पोछ दीजिये| आप गर्म पानी और बेकिंग सोडे के मिश्रण से भी इसे पोछ सकते हैं| आप इस अतिरिक्त तेल को साबुन से भी साफ़ कर सकते हैं|

कैस्टर ऑयल पैक का उपयोग लगातार तीन दिनों तक कीजिये, फिर चार दिनों का अंतर(गैप) कीजिये| यदि इन सात दिनों में आपको आराम नहीं मिलता है तो यह प्रक्रिया फिर से दोहराइए|

विधि 5: शिशुओं के लिए कैस्टर ऑयल की मालिश

शिशुओं में कब्ज के उपचार के लिए कैस्टर ऑयल एक सुरक्षित तरीका होता है| गर्म कैस्टर ऑयल की कुछ बूँदें लेकर उनके पेट में मालिश करने से मलत्याग आसानी से हो जाएगा|

शिशु के पेट में सप्ताह में दो बार गर्म कैस्टर ऑयल से मालिश कीजिये

कैस्टर ऑयल की मालिश कीजिये (शिशुओं के लिए)
शिशुओं में कब्ज दूर करने के लिए कैस्टर ऑयल की मालिश कीजिये
  • एक बड़े चम्मच (लगभग 15 मिली0) कैस्टर ऑयल को माइक्रोवेव या डबल बॉयलर में 30 सेकंड के लिए गर्म कीजिये| आप सिर्फ दो बर्तनों के इस्तेमाल से बहुत कम समय में घर पर ही डबल बॉयलर बना सकते हैं|
  • तेल; छूने में बहुत अधिक गर्म नहीं होना चाहिए|
  • थोड़ा-सा तेल अपनी हथेलियों पर रगड़िए और शिशु के पेट पर मालिश कीजिये| यह ध्यान रखिये कि तेल शिशु की आँख, मुंह या जननांगों में न जाने पाए|
  • थोड़ा-सा तेल शिशु की जांघों और घुटनों पर लगाइए, फिर उनके घुटनों को पेट की ओर मोड़िये|
  • दस से पंद्रह मिनट तक मालिश करते रहिये, फिर अतिरिक्त तेल को एक मुलायम कपड़े से पोछ दीजिये|

शिशुओं में कब्ज से राहत पाने के लिए सप्ताह में दो बार कैस्टर ऑयल का उपयोग कीजिये|

नोट: कैस्टर ऑयल को गैस पर गर्म करने से इसके पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं, इसलिए इसे गर्म करने के लिए माइक्रोवेव या डबल बॉयलर का ही इस्तेमाल कीजिये|

सुझाव

  • जब आप कैस्टर ऑयल को फल के रस के साथ मिला रहे हैं, तो आप इसमें फल का गूदा भी मिला सकते हैं, इससे आपको अधिक फाइबर मिलेगा|
Advertisements