गर्मियां में हमें स्वस्थ रहने के लिए पानी की अधिकता वाले फलों का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए| गर्मियों के मौसम में नींबू का सेवन सबसे अच्छा रहता है| आप नींबू को अलग अलग तरह से इस्तेमाल कर सकते है, नींबू पानी, नींबू का शरबत,नींबू की चाय या नींबू के रस को खाने/सलाद में मिला कर|

विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभों के लिए नींबू के उपयोग

Advertisements

आप विभिन्न तरह के स्वास्थ्य लाभों के लिए आसानी से नींबू का इस्तेमाल कर सकते हैं| यहाँ हम आपको नींबू के फायदे और औषधीय उपयोग के बारे में बतायेंगे|

नींबू में बहुत अधिक मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है| इसमें साइट्रिक एसिड, फ्लेवोनॉइड्स  और खनिज तत्व; जैसे पोटैशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, कैल्शियम और आयरन भी पाए जाते हैं| असल में, केवल एक नींबू आपके शरीर की प्रतिदिन की विटामिन-सी की आवश्यकता के एक-तिहाई भाग को पूरा कर सकता है|

नींबू के फायदे और औषधीय उपयोग के बारे में जानकर आप नींबू का सेवन करना आरम्भ कर देंगे| सर्वप्रथम आप नींबू के इस्तेमाल से शरीर को कमजोर बनाये बिना ही वजन कम कर सकते हैं| यहाँ आपको नींबू के फायदे और औषधीय उपयोग के बारे में बताया जा रहा है, जिन्हें जानकर आप नींबू को अपने प्रतिदिन के आहार में शामिल कर लेंगे|

Contents

विधि 1: शरीर के खराब पदार्थों को बाहर निकालने में सहायक

शरीर को अंदर से साफ रखने के लिए नींबू काफी प्रभावी होता है| यह शरीर के खराब पदार्थों को बाहर निकालकर शरीर को साफ रखता है| नींबू में विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में पाए जाते हैं, जो आपके शरीर से मुक्त कणों (फ्री रेडिकल्स) को खत्म कर देते हैं|

Advertisements

नींबू शरीर में मूत्रवर्धक की भांति कार्य करता है, जिससे व्यक्ति को अधिक बार पेशाब जाना पड़ता है, जिसके चलते शरीर के खराब पदार्थ मूत्रत्याग द्वारा बाहर निकल जाते हैं| इससे खून भी साफ हो जाता है और त्वचा में भी निखर आता है|

आवश्यक सामग्री:

शरीर के खराब पदार्थों के लिए नींबू के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का रस (खराब पदार्थों को बाहर निकालता है) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 मिली0)
  • शहद (स्वाद के लिए) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • गर्म पानी – एक कप (लगभग 250 मिली0)

1. पानी में नींबू का रस और शहद डालें

 नींबू के रस और शहद को पानी में डालें

  • एक कप गर्म पानी में एक-एक छोटा चम्मच नींबू का रस और शहद डालें|

2. अच्छे से मिलाकर इसका सेवन करें

 नींबू के रस और शहद को अच्छे से मिला लें
खाली पेट इस नींबू पेय का सेवन करिय|
  • चम्मच की सहायता से इन्हें अच्छे से मिला लें|
  • तैयार पेय का सेवन करें| सुबह खाली पेट इस पेय का सेवन करना बेहतर रहता है| आप शाम के समय भी इसका सेवन कर सकते हैं| लेकिन यह ध्यान रखिये कि खाना खाने के तुरंत बाद इस पेय का सेवन नहीं करना चाहिए|
  • एक माह तक इस पेय का सेवन करने से आपको सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलेंगे|

विधि 2: किडनी स्टोन (गुर्दे की पथरी) को निकालने में सहायक

नींबू में पाया जाने वाला साइट्रिक एसिड, किडनी में कैल्सियम ऑक्‍जेलेट स्टोन (पथरी) को तोड़ देता है और टूटी हुई पथरी मूत्रमार्ग के द्वारा शरीर से बाहर निकल जाती है| नींबू मूत्रवर्धक का काम करता है, जिससे बार-बार पेशाब आने पर पथरी शरीर से बाहर निकल जाती है|

जैतून का तेल (ऑलिव ऑयल) पथरी को आसानी से शरीर से बाहर निकालने में सहायक है| बेहतर परिणाम के लिए आपको इस घरेलू उपचार के साथ-साथ अधिक मात्रा में पानी भी पीना चाहिए|

Advertisements

आवश्यक सामग्री:

किडनी स्टोन निकालने के लिए नींबू के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का रस (किडनी स्टोन को तोड़ देता है) – एक चौथाई कप (लगभग 60 मिली0)
  • जैतून का तेल (ऑलिव ऑयल) (स्टोन को बाहर निकालने में सहायक) – एक चौथाई कप (लगभग 60 मिली0)

1. ऑलिव ऑयल में नींबू का रस डालें

नींबू के रस और ऑलिव ऑयल को मिला लें

  • एक गिलास में एक-एक चौथाई कप जैतून का तेल (ऑलिव ऑयल) और नींबू का रस डालें|

2. इन्हें अच्छे से मिलाकर सेवन करें

जैतून के तेल (ऑलिव ऑयल) और नींबू के रस को अच्छी तरह से मिला लें
किडनी स्टोन को शरीर से बाहर निकालने के लिए इस मिश्रण का सेवन करें
  • जैतून के तेल (ऑलिव ऑयल) और नींबू के रस को अच्छी तरह से मिला लें|
  • इस मिश्रण का सेवन करें| जी मिचलाने की परेशानी को ठीक करने के लिए खाली पेट इस मिश्रण का सेवन करें| अगर आप इस मिश्रण को एक बार में नहीं पी पाते हैं, तो आधा-आधा करके पंद्रह मिनट के अंतर में पी लीजिये|
  • हर बार इस मिश्रण का सेवन करने के बाद दो से तीन गिलास पानी पीजिये| दिन में कम से कम तीन लीटर पानी पीने की आदत बनाइये|
  • दिन में दो से तीन बार इस मिश्रण का सेवन कीजिये| इसके कुछ दिनों के सेवन से ही आप गुर्दे की पथरी (किडनी स्टोन) से छुटकारा पा लेंगे|

विधि 3: सर्दी-खांसी की प्राक्रतिक दवा के रूप में

अध्ययन के अनुसार, गर्म पानी में नींबू मिलाकर पीने से नाक और गले के जमाव में राहत मिलती है और शरीर हाइड्रेट रहता है| बेहतर परिणाम के लिए आप इसमें थोड़ा-सा शुद्ध शहद भी मिला सकते हैं|

Advertisements

नींबू में पाई जाने वाली विटामिन-सी की अधिक मात्रा श्वसन तंत्र को आराम पहुंचाती है|

आवश्यक सामग्री:

सर्दी खांसी की प्राक्रतिक दवा के रूप में नींबू के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का रस (सर्दी-खांसी की दवा) – दो बड़े चम्मच (लगभग 30 मिली0)
  • शहद (खांसी को जल्दी ठीक करने में सहायक) – एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 ग्राम)

1. शहद में नींबू का रस डालें

नींबू के रस और शहद को मिला लें

  • एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच शुद्ध शहद डालें|
  • इसमें दो बड़े चम्मच नींबू का रस डालें|

2. अच्छे से मिलाकर इसका सेवन करें

इन्हें अच्छे से मिला लें
सर्दी खांसी की रोकथाम के लिए शहद और नींबू के मिश्रण का सेवन कीजिये
  • चम्मच की सहायता से इन्हें अच्छे से मिला लें|
  • दिन में तीन बार इस मिश्रण का सेवन करें|
  •  जब तक आपको पूरी तरह से राहत नहीं मिल जाती, तब तक इसका सेवन करते रहिये|

विधि 4: कब्ज से राहत दिलाने में सहायक

गर्म पानी में नींबू का रस मिलाकर सेवन करने से यह कब्ज खत्म करने में प्रभावी रूप से काम करता है| अगर आप नियमित रूप से मलत्याग नहीं जा पाते हैं, तो गर्म पानी में नींबू डालकर पीने से आँतों में काफी आराम मिलता है|

कब्ज से छुटकारा पाने के लिए नींबू एक रामबाण नुस्खा होता है और यह कुछ ही मिनटों में अपच से राहत दिलाता है| इसक सेवन से शरीर के खराब पदार्थ बाहर निकल जाते हैं|

Advertisements

गर्म पानी में नींबू का रस मिलकार इसका सेवन करें

गर्म पानी में नींबू का रस मिलाएं
नींबू के गर्म पानी के सेवन से कब्ज का इलाज कीजिये
  • एक कप (लगभग 250 मिली0) गर्म पानी में आधा नींबू निचोड़ दें|
  • इन्हें अच्छे से मिलाकर दिन में दो बार इसका सेवन करें| सुबह खाली पेट और रात में सोने से पहले इसका सेवन बेहतर रहता है|
  • अगर आपको मामूली कब्ज हुआ है, तो इसके एक या दो बार के सेवन से ही आपको मलत्याग सामान्य रूप से होने लगेगा|
  • एक सप्ताह तक प्रतिदिन इस घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल करने से आपका पाचन तंत्र सामान्य हो जाएगा| नींबू के गर्म पानी को अपनी दिनचर्या में शामिल करने से कब्ज के गंभीर मामलों में निजात पाया जा सकता है|

विधि 5: मुंहासों के दाग-धब्बों को खत्म करने में सहायक 

नींबू का रस त्वचा पर प्राकृतिक ब्लीच का काम करता है, जिससे मुंहासों के दाग-धब्बों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है| नींबू में पाया जाने वाला विटामिन-सी कोलेजन के उत्पादन को बढ़ाता है, जिससे आपकी त्वचा कोमल और बेदाग हो जाती है| नींबू के रस को त्वचा पर इस्तेमाल करने के निम्नलिखित तीन तरीके बताये जा रहे हैं:

नोट: नींबू के इस्तेमाल से आपकी त्वचा फोटोसेन्सिटिव हो सकती है| इसलिए त्वचा पर नींबू के इस्तेमाल के कुछ घंटो बाद तक धूप में निकलने से बचें| आपको नींबू के उपयोग के बाद यूवीए किरणों से रक्षा करने वाली सनस्क्रीन का इस्तेमाल अवश्य करना चाहिए| बेहतर परिणाम पाने के लिए हम आपको रात के समय नींबू के इस्तेमाल की सलाह देते हैं|

# सादा नींबू का रस

नींबू के रस को मुंहासों के दाग-धब्बों पर लगाएं

नींबू के रस को दाग-धब्बों पर लगाएं
मुंहासों के दागों से छुटकारा पाने के लिए नींबू के रस का इस्तेमाल करें
  • आधे नींबू को निचोड़कर रस निकाल लें|
  • थोड़ी-सी साफ रुई को नींबू के रस में डुबोइए और इसे मुंहासों के दाग-धब्बों पर लगाएं|
  • नींबू के रस को त्वचा पर सूख जाने दीजिये, लेकिन इसे दस मिनट तकस ए अधिक देर तक त्वचा पर न लगा रहने दें|
  • फिर त्वचा को ठण्डे पानी से धोकर एक सौम्य मॉइस्चराइजर लगा लें|
  • मुंहासों के दागों से छुटकारा पाने के लिए एक माह तक प्रतिदिन नींबू के रस का इस्तेमाल करें|

# शहद और नींबू

जिन लोगों की त्वचा संवेदनशील और रूखी है, उन्हें नींबू के रस में शहद मिलकर इस्तेमाल करना चाहिए| शहद प्राकृतिक रूप से त्वचा को नमी प्रदान करता है, जिससे आपकी त्वचा रूखी नहीं होती है| यह त्वचा के दाग-धब्बों को भी आसानी से खत्म कर देता है| आप रूखी त्वचा से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलू फेस पैक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

आवश्यक सामग्री:

शहद के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का ताजा रस (प्राकृतिक ब्लीच)
  • शहद (त्वचा को नमी प्रदान करता है)

1. शहद और नींबू के रस की समान मात्रा मिला लीजिये

शहद और नींबू के रस को मिला लीजिये

  • एक कटोरी में आहा नींबू निचोड़कर रस निकाल लें|
  • इसमें समान मात्रा मन शहद मिला लें|
  • दोनों पदार्थों को अच्छी तरहस ए मिला लें|

2. तैयार मिश्रण को मुंहासों के दाग-धब्बों पर लगायें

तैयार मिश्रण का इस्तेमाल करें
शहद और नींबू के मिश्रण से रूखी त्वचा से छुटकारा पायें
  • एक साफ रुई को मिश्रण में डुबोकर मुंहासों के दाग-धब्बों पर लगाएं|
  • इसे दस मिनट तक त्वचा आर लगा रहने दें|
  • फिर त्वचा को सादे पानी से धोकर एक मुलायम तौलिया से पोछ लें|
  • दो से तीन सप्ताह तक प्रतिदिन इस उपचार के इस्तेमाल से आपको बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे|

# टमाटर और नींबू

मुंहासों के दाग-धब्बों को टमाटर और नींबू के रस के मिश्रण से भी खत्म किया जा सकता है| टमाटर त्वचा को सौम्यता से साफ करता है और पोषण प्रदान करता है| यह त्वचा की मृत कोशिकाओं को भी बाहर निकालता है| टमाटर त्वचा की रंगत को एकसमान करने में भी सहायक है| इस प्रकार से यह मुंहासों के दाग-धब्बों को हल्का करता है|

आवश्यक सामग्री:

टमाटर के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का ताजा रस (प्राकृतिक ब्लीच)
  • टमाटर का गूदा (त्वचा को साफ करता है)

1. टमाटर के गूदे में नींबू का रस डालें

नींबू के रस को टमाटर के गूदे में डालें

  • एक कटोरी में थोड़ा-सा टमाटर का गूदा निकाल लें|
  • इसमें समान मात्रा में ताजा नींबू का रस डालें|
  • इन्हें अच्छी तरह से मिला लें|

2. तैयार मिश्रण का इस्तेमाल करें

टमाटर और नींबू के मिश्रण का इस्तेमाल करें
टमाटर और नींबू का मिश्रण मुंहासों के दाग-धब्बों को खत्म करने में सहायक है
  • एक साफ रुई में टमाटर और नींबू के रस का तैयार मिश्रण ले लीजिये|
  • इसे मुंहासों के दाग-धब्बों पर लगायें|
  • त्वचा पर मिश्रण के सूख जाने के बाद इसे सादे पानी से धो लें|
  • दोस ए तीन सप्ताह तक प्रतिदिन इस उपचार का इस्तेमाल करके मुंहासों के दाग-धब्बों को खत्म किया जा सकता है|

विधि 6: उपापचय और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक

नींबू-पानी शरीर के उपापचय (मेटाबोलिज्म) और रोग प्रतिरोधक क्षमता(इम्युनिटी) को बढ़ाने का एक बेहतर तरीका होता है| आप नींबू-पानी के घरेलू उपचार से उपापचय को बढ़ाकर स्वास्थ्यवर्धक ढंग से वजन कम कर सकते हैं|

नींबू में पाया जाने वाला विटामिन-सी कार्निटिन के बायोसिन्थेसिस में सहायक है, जो वसीय अम्लों के उपापचय में मुख्य भूमिका निभाता है| यह शरीर को सर्दी या फ्लू से भी बचाता है|

नींबू में पाया जाने वाला पोटैशियम, मस्तिष्क और कोशिकाओं को कार्य करने के लिए बढ़ावा देता है तथा पूरा दिन आपके शरीर में ऊर्जा बनाए रखता है| आप सुबह की चाय में नींबू का रस भी मिला सकते हैं या इसे खाना पकाने अथवा सलाद के साथ सेवन कर सकते हैं|

प्रत्येक सुबह नींबू के पानी का सेवन कीजिये

नींबू के पानी का सेवन कीजिये
नींबू के पानी के सेवन से उपापचय को अच्छा रखा जा सकता है
  • एक कप (लग्बह्ग 250 मिली0) पानी में एक बड़ा चम्मच (लगभग 15 मिली0) नींबू का रस मिलाएं|
  • प्रत्येक सुबह खालीई पेट नींबू के पानी का सेवन करके उपापचय और रोग प्रतिरोधक क्षमता क बढ़ाया जा सकता है|
  • आप पूरा दिन थोड़ा-थोड़ा नींबू पानी पी सकते हैं| नींबू पानी के सेवन से आपकी प्यास बढ़ेगी| यह शरीर को हाइड्रेट रखने में सहायक है|

विधि 7: मुंह की बदबू से छुटकारा

बाजार में मिलने वाले माउथवॉश में प्रायः अल्कोहल पाया जाता है, जो मुंह में मौजूद प्रक्रितक तत्वों को नष्ट कर देता है| अल्कोहल; लार के उत्पादन को कम करके मुंह को सुखा देता है, जिससे मुंह से बदबू आने लगती है|

Advertisements

अगर प्रतिदिन ब्रश करने और मुंह की सफाई करने से आपके मुंह की बदबू खत्म नहीं होती है, तो हम आपको नींबू से माउथवॉश बनाना बता रहे हैं, जिसके इस्तेमाल से लार बनने लगती है और मुंह से बदबू नहीं आती है| नींबू मुंह से प्याज और लहसुन की तीखी महक को भी खत्म कर देता है|

यहाँ बताये गए माउथवॉश में दालचीनी और बेकिंग सोडा का इस्तेमाल किया गया है, जो बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देते हैं| इसमें शहद का भी इस्तेमाल किया गया है, जो न केवल माउथवॉश के स्वाद को बढ़ाता है, बल्कि इससे लार अधिक बनने लगती है और ख़राब बैक्टीरिया मर जाते हैं|

आवश्यक सामग्री:

मुंह की बदबू के लिए नींबू के इस्तेमाल के लिए आवश्यक सामग्री

  • नींबू का ताजा रस (लार के उत्पादन को बढ़ाता है) – आधा नींबू
  • बेकिंग सोडा (खराब बैक्टीरिया को खत्म करता है) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • गर्म पानी – एक कप (लगभग  250 मिली0)
  • दालचीनी पाउडर (खराब बैक्टीरिया को खत्म करता है) – एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम)
  • शहद (बदबू वाले बैक्टीरिया को मारता है) – दो छोटे चम्मच (लगभग 10 ग्राम)

1. दालचीनी पाउडर, बेकिंग सोडा, शहद और नींबू के रस को एक जार में डालें

बेकिंग सोडा, शहद, नींबू के रस और दालचीनी पाउडर को एक जार में डालें

  • एक जार में एक-एक छोटा चम्मच दालचीनी पाउडर और बेकिंग सोडा निकालें|
  • इसमें दो छोटे चम्मच शहद डालें|
  • अब इसमें आधा नींबू निचोड़ दें|

2. इसमें गर्म पानी डालें

जार में गर्म पानी डालें

  • जार में एक कप गर्म पानी डालें|
  • मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें उर इसे ठंडा होने दें|

3. तैयार मिश्रण को एक हवाबंद शीशी में भर लें

मिश्रण को एक हवाबंद शीशी में भर लें
इससे मुंह में कुल्ला करके मुंह की बदबू से छुटकारा पायें
  • तैयार घरेलू माउथवॉश को एक हवाबंद/एयरटाइट शीशी में भर लें|
  • आप इसे एक सप्ताह तक फ्रिज में सुरक्षित रख सकते हैं| इसलिए कम मात्रा ही तैयार कीजिये और जरूरत पड़ने पर फिर से बना लीजिये| अथवा अगर आप माउथवॉश को लम्बे समय तक सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो आप नींबू के ताजे रस की बजाय बाजार में मिलने वाले नींबू के रस का इस्तेमाल कीजिये|
  • तैयार माउथवॉश को मुंह में भरकर तीस सेकंड तक कुल्ला कीजिये और फिट थूक दीजिये| अब अगर आवश्यक हो, तो सादे पानी से कुल्ला कर लीजिये|
  • मुंह की बदबू से छुटकारा पाने के लिए प्रतिदिन इस माउथवॉश से कुल्ला कीजिये| आप साँसों में ताजगी लाने के लिए भी इस माउथवॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं|

विधि 8: गठिया रोग में सहायक

नींबू में पाया जाने वाला विटामिन-सी गठिया के दर्द से निजात दिलाने में सहायक है| नींबू, रक्त में यूरिक एसिड को घोलने में भी सहायक है, जिससे यूरिक एसिड कणों के रूप में नहीं जमता है और जोड़ों में सूजन की रोकथाम होती है|

नींबू के रस को पानी में मिलाकर इसका सेवन करें

पानी में नींबू का रस डालिए
नींबू पानी के सेवन से गठिया का दर्द कम किया जा सकता है
  • एक कप (लगभग 250 मिली0) पानी में एक नींबू निचोड़ दें|
  • इसे पानी में अच्छे से मिला दें|
  • गठिया के दर्द से निजात पाने के लिए दिन में तीन बार नींबू के पानी का सेवन करें|
  • एक से दो सप्ताह तक इसके इस्तेमाल से आपको बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे|

विधि 9: मुंह सूखने के इलाज में सहायक

नींबू में पाया जाने वाला साइट्रिक एसिड लार के उत्पादन में सहायक है| यह बंद नाक में भी सहायक होता है क्योंकि बंद नाक के कारण आपको मुंह से साँस लेना पड़ता है, जिससे मुंह सूखने लगता है|

मुंह सूखने के इलाज के लिए आप नींबू के रस, नींबू के शर्बत, नींबू के छिलके, नींबू के तेल और शुगर-फ्री लेमन कैंडी का इस्तेमाल कर सकते हैं|

पानी में नींबू के टुकड़े डालकर इसका सेवन करें

नींबू के टुकड़ों को पानी में डालें
नींबू के पानी का सेवन बंद नाक में सहायक है|
  • एक नींबू को बीच से काट लें| फिर इसके पतले-पतले टुकड़े काटें|
  • एक गिलास (लगभग 250 मिली0) पानी में नींबू के तीन से चार टुकड़े डालें|
  • मुंह सूखने की समस्या से छूटकर पाने के लिए नींबू के पानी का थोड़ा-थोड़ा करके पूरा दिन सेवन करें|
  • यह ध्यान रखिये कि नींबू के पानी में नींबू के रेशे नहीं जाने चाहिए, अन्यथा पानी पीते समय ये रेशे भी आपके मुंहे में आयेंगे और आपको चिड़चिड़ाहट होगी|
  • आवश्यकतानुसार इस उपचार का इस्तेमाल करें|

सुझाव

  • नींबू को त्वचा पर इस्तेमाल करने से पहले हमेशा त्वचा पर संवेदनशीलता की जांच कर लेना चाहिए|
  • त्वचा पर नींबू के इस्तेमाल के बाद धूप में निकलने से बचें|
  • अगर आपको नींबू के पानी का स्वाद अच्छा नहीं लगता है, तो पहले थोड़ी मात्रा पीजिये, फिर धीरे-धीरे मात्रा बढ़ाइए| आप नींबू के पानी में स्वाद के लिए शहद भी मिला सकते हैं|
  • अगर नींबू का पानी आपके शरीर के लिए सही नहीं है, तो आप इन उपचारों का इस्तेमाल न करें| इसके लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिये|
Advertisements